ज्ञापन:निजी स्कूलों को तीन सत्रों से नहीं मिला आरटीई का भुगतान, रोष

टोंकएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौंपकर की मांग

आरटीई के भुगतान को लेकर प्राइवेट स्कूल संचालकों ने सोमवार को मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा है। स्कूल एजूकेशन वेलफेयर एसोसिएशन (सेवा) टोंक के शब्बीर नागौरी ने बताया कि सरकार की ओर से पिछले तीन शिक्षा सत्रों से फीस का पुनर्भरण नहीं किए जाने से गैर सरकारी स्कूलों को आर्थिक परेशानी हो रही है। जबकि इसको लेकर समय-समय पर शिक्षा विभाग के अधिकारियों व शिक्षामंत्री को अवगत कराकर समाधान का आग्रह किया जा चुका है। लेकिन सरकार नुमाइंदों की ओर से इसपर बिलकुल ध्यान नही दिया जा रहा है।

उन्‍होंने 2021-22 का बकाया और ऑफलाइन शिक्षण कार्य करवाने वाले राज्य के सभी 10 हजार स्कूलों का भुगतान करवाने की मांग करते हुए निशुल्क प्रवेशित विद्यार्थियों के प्रवेश के लिए विभाग की ओर से जारी टाईम फ्रेम में फीस पुनर्भरण की तिथि भी अंकित करने की मांग की है। निजी स्कूलों संचालकों को राहत नही देने पर धरना-प्रदर्शन करने पर मजबूर चेतावनी दी है। इस मौके पर खालिद एहतेशाम, राजीव पाल, मो. मुमताज, युसूफ ऐजाजी, सीताराम गुप्ता, शिव श्रीवास्तव आदि मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...