खड़े ट्रक से भिड़ी तेज रफ्तार कार, VIDEO:कोटा में IIT कोचिंग कर रहे 4 स्टूडेंट्स समेत 5 की मौत

टोंक4 महीने पहले
सड़क किनारे खड़े ट्रक से बेकाबू हुई तेज रफ्तार कार भिड़ गई। इसमें 5 लोगों की मौत हो गई। हादसे का सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया है।

टोंक में भीषण सड़क हादसे में IIT की कोचिंग कर रहे चार छात्रों समेत 5 लोगों की मौत हो गई। 1 घायल को जयपुर रेफर किया गया है। सभी कार से हरिद्वार जा रहे थे तभी जयपुर-कोटा नेशनल हाइवे-52 पर उनकी कार बेकाबू हो गई और सड़क किनारे खड़े ट्रक से जा टकराई। हादसा रविवार रात करीब एक बजे के आसपास हुआ। घटना का CCTV फुटेज भी सामने आया है। इसमें तेज रफ्तार कार ट्रक से टकराती दिखाई दे रही है।

जानकारी के अनुसार कार से जा रहे पांच स्टूडेंट कोटा में रहकर IIT की कोचिंग कर रहे थे। उन्होंने घूमने का प्लान बनाया था और हरिद्वार जाते समय सदर थाना क्षेत्र में बाड़ा जेरेकिला के पास उनकी कार का एक्सीडेंट हो गया।

ट्रक की बॉडी बनाने के कारखाने का चौकीदार भी उनकी कार की चपेट में आ गया। उसकी भी मौत हो गई। टक्कर इतनी जोरदार थी कि कार के परखच्चे उड़ गए। पुलिस ने क्रेन की मदद से क्षतिग्रस्त कार को मौके से हटाकर थाने में खड़ा कराया है।

रविवार रात हुए भीषण सड़क हादसे में कार के परखच्चे उड़ गए।
रविवार रात हुए भीषण सड़क हादसे में कार के परखच्चे उड़ गए।

हेड कांस्टेबल कृष्णपाल ने बताया कि बाड़ा जेरेकिला के पास फोरलेन हाईवे पर कार के एक्सीडेंट की सूचना मिली तो पुलिस टीम मौके पर पहुंची। वहां कोटा नंबर की एक कार ट्रक की बॉडी बनाने के कारखाने के पास खड़े ट्रक से टकराकर क्षतिग्रस्त हालत में खड़ी थी। कार में बैठे 5 लोगों में से 4 लोग लहूलुहान हालत में पड़े मिले।

आसपास के लोगों की मदद से घायलों को बाहर निकालकर टोंक के जिला अस्पताल पहुंचाया गया। डॉक्टरों ने अभिषेक पुत्र अवधेश कुमार, सूरज पुत्र सुनील और कारखाने के चौकीदार काली पलटन निवासी सादिक (40) को मृत घोषित कर दिया।

पुलिस ने सभी घायलों को स्थानीय सआदत अस्पताल पहुंचाया गया। यहां डॉक्टर ने 3 लोगों को मृत घोषित कर दिया। 3 घायलों को जयपुर रेफर किया गया, इसमें से भी 2 घायलों ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।
पुलिस ने सभी घायलों को स्थानीय सआदत अस्पताल पहुंचाया गया। यहां डॉक्टर ने 3 लोगों को मृत घोषित कर दिया। 3 घायलों को जयपुर रेफर किया गया, इसमें से भी 2 घायलों ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।

उन्होंने बताया कि हादसे में घायल छात्र रोशन पुत्र रविंद्र कुमार, श्रेयांश उर्फ ज्ञानेश्वर और ऋषभ को जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल रेफर कर दिया, जहां इलाज के दौरान रोशन और श्रेयांश उर्फ ज्ञानेश्वर की भी मौत हो गई।

पुलिस ने चौकीदार के शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया है, जबकि मृतक 2 छात्रों के शव टोंक अस्पताल और 2 छात्र के शव जयपुर अस्पताल की मॉर्च्युरी में रखवाए गए है। मृतक छात्र बिहार और उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं। फिलहाल पुलिस ने इनके परिजनों को सूचना दे दी है, जिनके पहुंचने पर पोस्टमार्टम करवाया जाएगा।

उत्तर प्रदेश और बिहार के रहने वाले छात्र
सदर थाना प्रभारी आशाराम ने बताया कि सड़क हादसे में 2 छात्र अभिषेक और सूरज की मौके पर ही मौत हो गई थी, जबकि 2 छात्र श्रेयांश उर्फ ज्ञानेश्वर और रोशन ने जयपुर के एसएमएस अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। एक दोस्त ऋषभ को मामूली चोंटे आई हैं, जिसका अस्पताल में इलाज चल रहा है। मृतक रोशन और सूरज बिहार के गया के रहने वाले थे, जबकि अभिषेक और श्रेयांश उर्फ ज्ञानेश्वर उत्तर प्रदेश के सोनभद्र के रहने वाले थे। हादसे में एकमात्र जिंदा बचा ऋषभ भी बिहार के गया का रहने वाला है। हादसे के समय श्रेयांश उर्फ ज्ञानेश्वर कार चला रहा था।

शराब के नशे में थे सभी छात्र
थाना प्रभारी आशाराम ने बताया कि इन छात्रों की कार में 3 बीयर और शराब की बोतलें मिली है। इसके अलावा कुछ बोतलों के कांच के टुकड़े मिले हैं। संभवतया सभी छात्र शराब के नशे में थे। इनके खिलाफ टोंक के मृतक चौकीदार के बेटे ने लापरवाहीपूर्वक कार चलाकर उसके पिता को मारने की रिपोर्ट दी है।