कुंड में गंदगी:हाडीरानी कुंड के पानी में जमा गंदगी से उठ रही सड़न, सैलानी परेशान

टोडारायसिंह2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

शहर के प्राचीन व ऐतिहासिक हाडीरानी कुंड की एक ओर सुंदरता की मिसाल कायम है, वहीं दूसरी ओर इसमें पानी मे जमा गंदगी व कांजी की पुरातत्व विभाग की अनदेखी से उठ रही सड़न से दर्शक परेशान रहते हैं। कुंड में गंदगी रहने से स्थानीय नागरिकों ने रोष जताया है। शहर में प्राचीन हाडीरानी कुंड में आमजन की सुरक्षा की दृष्टि से पुरातत्व विभाग ने इसकी सुंदरता बढ़ाने के लिए हाल ही में 8 लाख रुपए खर्च किए है। लेकिन इसके पानी की सफाई नहीं कराने से इसमें गंदगी की सड़न से यहां आने वाले दर्शक परेशान रहते है। शहर के विनोद मोदी, सुरज्ञानी जैन, मदन लाल जाट, राम लाल जाट, राजेन्द्र जैन समाज सेवकों ने बताया की ऐतिहासिक हाडीरानी कुंड की ऊपर से सुंदरता तो बढा दी गई लेकिन पुरातत्व विभाग को बार-बार सफाई के लिए कहने के बावजूद अनसुनी करते है। बता दें ऐतिहासिक हाडीरानी कुण्ड एक विशाल व प्राचीन बावड़ी है। जिसकी भूल भूल्लया सीढ़ियां आश्चर्य में डालती है। हाडी रानी कुंड करीब 600 वर्ष पुराना बताया गया है। कुण्ड की लंबाई 100 फुट व चौडाई 80 फुट है। कुण्ड में चहुंओर की करीब 1100 सीढियां है। यह कुंड 110 फुट गहरा है। वर्तमान में गर्मी के चलते 20 फुट पानी रह गया है। भव्य बावडी होने से यहां रोजाना देखने वालों को तांता लगा रहता है।

खबरें और भी हैं...