• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Udaipur
  • Bhim
  • After Grazing Goat For 3 Months, The Minor Asked For Money From The Owner, If Not Given, Then Killed Warkar Twice With A Sharp Weapon, Detain

हादसा:3 माह बकरी चराने के बाद नाबालिग ने मालिक से मांगे रुपए, नहीं दिए तो धारदार हथियार से दाे बार वारकर की हत्या, डिटेन

भीम2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • भीम के संबुरिया में हत्या का 24 घंटों में पुलिस ने किया खुलासा, बकरी मालिक के व्यवहार से परेशान था नाबालिग

उपखंड क्षेत्र की ग्राम पंचायत कालादेह के संबुरिया में मंगलवार रात कमरे में साे रहे राजू खटीक की हत्या का 24 घंटाें में खुलासा करते हुए उसकी बकरियां चराने वाले नाबालिग काे डिटेन किया। नाबालिग तीन माह से बकरियां चराने की एवज में एक हजार रुपए मांग रहा था, इस पर राजू बार बार अपमानित करते हुए गाली गलाैच करता था। बार-बार अभद्रता करने से परेशान विधि संघर्षरत किशाेर ने बदला लेने की साेचते हुए धारदार हथियार से दाे वारकर गला काट दिया।

थानाधिकारी गजेंद्रसिंह ने बताया कि संबुरिया निवासी राजमल उर्फ राजू 26 पुत्र नाथूलाल खटीक मंगलवार रात काे साे रहा था। इस दाैरान नाबालिग ने घर में घुसकर राजू की गला काटकर हत्या कर दी। इस मामले काे गंभीरता से लेते हुए भीम डीएसपी हेमंत कुमार मय जाब्ता मौके पर पहुंचे। जहां घटना स्थल का निरीक्षण करने के बाद साक्ष्य ढूंढे व आराेपी की तलाश के लिए एफएसएल टीम, डॉग स्क्वायड, एमओबी टीम, साइबर टीम को बुलाया।

मामले को गंभीरता से लेते हुए ब्लाइंड मर्डर के अज्ञात आरोपी की तलाश के लिए अलग-अलग टीमाें को गठन करते हुए त्वरित कार्रवाई कर विधि से संघर्षरत किशोर को डिटेन किया। अाराेपी ने पूछताछ में बताया कि विगत तीन माह से राजू खटीक की बकरियां चराने का काम करता है, जो तीन माह की मजदूरी एक हजार रुपए मांगने पर राजू ने पैसा नहीं दिया और गाली-गलौच करने लग गया।

इस पर कुंठित हाेकर मंगलवार रात्रि राजमल शराब के नशे में घर पर अकेला होने की जानकारी नाबालिग काे थी। इस पर मौके का फायदा उठाते हुए राजमल से बदला लेने की भावना के चलते रात्रि के समय जब राजमल घर जाकर सो गया, उसी समय कमरे के पीछे की खिड़की से कमरे में घुसकर नाबालिग ने धारदार हथियार से गर्दन पर वारकर हत्या कर दी। उसके बाद राजू खटीक की जेब से करीब एक हजार रुपए निकालकर ले गया।

लाॅकडाउन के बाद से बेराेजगार था नाबालिग

नाबालिग विगत कुछ वर्षाें से मजदूरी करने के लिए महाराष्ट्र गया था। लाॅकडाउन में काम धंधा बंद हाेने के बाद महाराष्ट्र से वापस घर आ गया और राजमल की बकरियां चराने के लिए आया था। तीन माह से बकरियां चराने का काम करता था। आवश्यकता पड़ने पर राजू खटीक से रुपए मांगता था। रुपए मांगने पर राजू गाली-गलाैच करते हुए अपमानित करता। बार-बार गाली गलाैच से कुंठित नाबालिग ने बदला लेने की भावना से हत्या कर दी।

खबरें और भी हैं...