पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

धरियावद थाना परिसर में हुई सुरक्षा सखी की बैठक:महिला-घरेलू हिंसा, बालक-बालिकाओं में बढ़ने वाले अपराधों की रोकथाम पर चर्चा

धरियावदएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

महानिदेशक पुलिस राजस्थान, जयपुर के आदेश पर धरियावद थाने में सुरक्षा सखी की मासिक बैठक हुई, जिसमें सीआई सुरेंद्र सिंह राव, सुरक्षा सखी प्रभारी अधिकारी अर्जुन सिंह के नेतृत्व में महिला संबंधी अपराधों की रोकथाम पर चर्चा की गई। महिला हिंसा, घरेलू हिंसा, बाल श्रम निषेध, बालक-बालिकाओं में बढ़ने वाले अपराधों की रोकथाम में कैसे कमी लाई जाए, कार्यस्थल पर होने वाले छेड़छाड़ जैसे अपराधों की किस प्रकार से रोकथाम की जाए, पर चर्चा की गई।

चिराली ब्लॉक अध्यक्ष दिव्या सोनी ने कहा कि मोबाइल पर आने वाले अनजान नंबरों को लेकर किसी भी झांसे में न आएं। किसी को अपने मोबाइल पर आई ओटीपी नहीं बताएं। सीआई सुरेन्द्र सिंह राव ने कहा कि बालिका स्कूल के आसपास अगर लड़के परेशान करते हों तो पुलिस-प्रशासन को सूचना दें। कोविड-19 में भी पुलिस-प्रशासन द्वारा लगातार मॉनिटरिंग कर रही है। कोविड-19 बचाव की भी चर्चा की गई।

सीआई सुरेंद्र सिंह ने बताया कि महिलाओं व बच्चों की सुरक्षा, उनके अधिकारों व कानून के प्रति जागरूक तथा उनकी समस्याओं का समाधान के संबंध में स्थानीय पुलिस से संवाद स्थापित करने के उद्देश्य से राजस्थान पुलिस की ओर से एक नई पहल सुरक्षा शुरू की गई है। इसमें अगर क्षेत्र में किसी भी महिला व बालिका के साथ अत्याचार होता है तो पुलिस को सूचना देने पर तत्काल कार्रवाई होगी। बैठक में कांस्टेबल कल्पना खाट, कांस्टेबल कमला, धरियावद ग्राम साथिन परविंदा सेन, बिलकिस बानो, फिरदौस बानू, सकीना बोहरा, नूरजहां, शकुंतला माली, पूर्वी वक्तावत, बबली, साहिबा बानू, वहीदा, प्रियंका शर्मा आदि मौजूद थी।

खबरें और भी हैं...