हादसा:गमगीन माहौल में हुई छोटे भाई का विवाह, फेरे के दौरान छलके आंसू, ग्रामीणों ने बंधाया ढांढस

कुंवारियाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बिंदोली में नाचने के दौरान बड़े भाई की मौत का मामला : 11 दिसंबर को होगी दो छोटी बहनों की शादी

ग्राम पंचायत गलवा के करतवास में रविवार को भाई-बहिन की बिंदोली में नाचने के दौरान बड़े भाई की माैत के बाद मंगलवार को छोटे भाई का गमगीन माहौल में विवाह हुआ। विवाह के दौरान ना तो ढोल बजे और ना ही महिलाओं ने मंगल गीत गाए। ऐसे ही समाज स्तर पर छोटे भाई के विवाह की रस्म पूरी की गई।

बड़े भाई नारायण गुर्जर की मौत के बाद मंगलवार को छोटे भाई शंभू गुर्जर का विवाह भीलवाड़ा जिले के खाखरमाला गांव में हुआ। दूल्हे को सादी वेशभूषा में उनके दोस्त दिनेश गुर्जर, राजू गुर्जर व दो अन्य रिश्तेदार खाखरमाला लेकर गए और विवाह की रस्म अदा करवाई। हिंदू रीति रिवाज में मान्यता है कि विवाह के दौरान घर में गणपति महाराज की स्थापना होने के बाद विवाह संपूर्ण करना पड़ता हैं, भले परिवार में अनहोनी क्यों ना हो जाए। विवाह स्थल पर बड़े भाई की कमी के कारण विवाह समारोह स्थल पर फेरे के दौरान छोटे भाई के आंखों में भी आंसू बहने लगे, जिन्हें दोस्तों और ग्रामीणों ने ढांढस बंधाया।
एक साल पूर्व ही बड़े भाई ने ही करवाई थी सगाई : शम्भू गुर्जर की सगाई एक साल पूर्व बड़े भाई नारायण लाल ने ही करवाई थी। विवाह में उसकी कमी खलने से छोटा भाई के आंखों में फेरे के दौरान आंसू बहने लगे। यह देख विवाह स्थल का माहौल भी गमगीन हो गया। घटना के बाद नारायण गुर्जर के माता-पिता, पत्नी बेसुध अवस्था में है, जिन्हें ग्रामीण ढांढस बंधा रहे है। 11 दिसंबर काे मृतक नारायण गुर्जर के दोनों बहनों की शादी होगी।

खबरें और भी हैं...