रास-पटका धराया:श्रीजी की हवेली में पुरुषोत्तमजी का उत्सव मनाया

नाथद्वारा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

आश्विन कृष्ण अष्टमी बुधवार को श्रीजी प्रभु की हवेली में महाप्रभुजी के पौत्र पुरुषोत्तमजी का उत्सव परम्परानुसार मनाया। श्रीजी में दान के दिवसों के अनुसार, मस्तक पर गौरस की स्वर्ण गाैरसियां कलश लेकर आती व्रज भक्त गोपीजनों के सुन्दर चित्रांकन वाली पिछवाई धराई। गादी, तकिया और चरण चौकी पर सफेद बिछावट की। श्रीजी को पीले रंग की मलमल पर रुपहली जरी की तुईलैस की किनारी से सुसज्जित सूथन, काछनी तथा रास-पटका धराया। ठाड़े वस्त्र श्वेत भातवार के धराए। प्रभु को वनमाला चरणारविंद तक का भारी शृंगार धराया। पन्ना एवं जड़ाव सोने के आभरण धराए। श्रीमस्तक पर हीरे तथा माणक का जडाऊ मुकुट एवं मुकुट पर मुकुट पितांबर एवं बायीं तरफ शीशफूल धराया।

खबरें और भी हैं...