बर्बरता की इंतहा...:गर्दन पर 26 घाव मिले, 1 सिर पर, गर्दन

उदयपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सुबह 10.40 बजे कन्हैयालाल की शव यात्रा अशोक नगर श्मशान के लिए रवाना हुई, जो दोपहर 1 बजे पहुंची, जहां बड़े बेटे यश ने मुखाग्नि दी। - Dainik Bhaskar
सुबह 10.40 बजे कन्हैयालाल की शव यात्रा अशोक नगर श्मशान के लिए रवाना हुई, जो दोपहर 1 बजे पहुंची, जहां बड़े बेटे यश ने मुखाग्नि दी।

उदयपुर में भूतमहल, मालदास स्ट्रीट में मंगलवार को टेलर कन्हैयालाल की हत्या के बाद उनके शव का बुधवार को आरएनटी मेडिकल कॉलेज के मेडिकल बोर्ड ने सुबह 8 बजे पोस्टमार्टम किया। सूत्रों के मुताबिक कन्हैयालाल की गर्दन पर 26 बार धारदार हथियार के गहरे घाव और सिर पर एक गहरा घाव होने की पुष्टि हुई है। कन्हैयालाल की गर्दन सिर्फ एक तरफ हल्की-सी खाल से अटकी हुई थी, शेष 98 फीसदी गर्दन कटकर अलग हो गई थी।

कन्हैयालाल की गर्दन को आईएस आतंकियों की तरह ही काटकर अलग किया गया। सूत्रों ने यह भी पता चला है कि पिछले 15 साल से पीएम करने वाले विशेषज्ञ डॉक्टरों की आंखों भी गर्दन को अलग देखकर पथरा गई थीं। कन्हैयालाल की पत्नी यशोदा और 20 वर्षीय बड़े बेटे यश तेली और 18 वर्षीय छोटे बेटे तरुण तेली ने बिलखते हुए कहा कि इन आतंकियों को तुरंत फांसी की सजा होनी चाहिए। बेटे यश ने कहा कि इन आतंकियों के लिए रैकी करने वाले कौन लोग हैं, उनको भी फांसी की सजा होनी चाहिए। अगर सरकार ने इस आतंकी गैंग को समय रहने खत्म नहीं किया तो ऐसी आतंकी हत्याएं और भी हो सकती हैं।

खबरें और भी हैं...