कोरोना की दोगुनी चाल:5 दिन बाद फिर 4 नए केस, अब रोज औसत 2 से ज्यादा रोगी

उदयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कोरोना का मेला : विरोध करने पहुंचे छात्रों के न मास्क, न डिस्टेंंसिंग। - Dainik Bhaskar
कोरोना का मेला : विरोध करने पहुंचे छात्रों के न मास्क, न डिस्टेंंसिंग।

कोरोना महामारी की संभावित तीसरी लहर की आहट के बीच उदयपुर में बढ़ते कोरोना पॉजिटिव मरीजों के मामले डराने लगे हैं। दिसंबर माह में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या का अंबार लगता जा रहा है। उदयपुर में मंगलवार को फिर चार नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। इससे पहले साढ़े तीन माह के अंतराल के बाद गत 10 दिसंबर को 4 नए कोरोना मरीज मिले थे। इससे पूर्व गत 20 अगस्त को 4 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले थे।

उदयपुर में अक्टूबर के 30 दिनों सिर्फ 3 नए कोरोना मरीज मिले यानी हर 10 दिन में एक केस सामने आ रहा था। इसके बाद नवंबर के 30 दिनों 14 यानी हर दूसरे दिन एक मरीज मिल रहा था। जबकि दिसंबर के 14 दिनों में 29 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं यानी प्रतिदिन औसत 2 से ज्यादा मरीज मिलने लगे हैं।

चार माह बाद उदयपुर में फिर एक्टिव केस 21 हो गए हैं। कलेक्टर चेतन देवड़ा ने सीएमएचओ डॉ. दिनेश खराड़ी को निर्देश दिए हैं कि विदेश से आने वाले सभी पर्यटकों की पुख्ता मॉनिटरिंग होनी चाहिए। विदेशी पर्यटकों की कोरोना सैंपलिंग कराकर प्रतिदिन रिपोर्ट प्रस्तुत करनी होगी ताकि ओमीक्रॉन के खतरे को टाला जा सके।

अस्पताल जाने से बचा रही वैक्सीन, सभी होम आइसोलेट
राहत की बात यह है कि दिसंबर माह में कोरोना संक्रमित मिले सभी 29 संक्रमित वैक्सीनेटेड थे जिन्हें अस्पतालों में भर्ती होने की जरूरत नहीं पड़ी। सभी होम आइसाेलेशन में रहे, जिनमें से 8 मरीज रिकवर हो चुके हैं। शेष 21 हाेम आइसोलेशन में हैं, जिन्हें अभी तक ऑक्सीजन की आवश्यकता नहीं पड़ी है।

सीएमएचओ डॉ. दिनेश खराड़ी बताते हैं कि वैक्सीनेशन के बाद कुछ लोग कोरोना संक्रमित हो रहे हैं, लेकिन उन्हें ना अस्पतालों में भर्ती करने की जरूरत पड़ रही है, नहीं ऑक्सीजन देने की।

खबरें और भी हैं...