• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Udaipur
  • After A Long Wait, Udaipur's Pichola Lake Is Full, Fatehsagar 2 Feet And Udaysagar 3 Feet Still Empty, Expected Rain For The Next One Week

आखिरकार भर गई पीछोला झील:लम्बे इंतजार के बाद हुई लबालब, फतहसागर 2 फीट और उदयसागर 3 फीट अब भी खाली, अगले एक सप्ताह भी बरसात की उम्मीद

उदयपुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पीछोला झील। - Dainik Bhaskar
पीछोला झील।

लम्बे इंतजार के बाद आखिरकार उदयपुर की सबसे खूबसूरत झील पीछोला लबालब हो गई। 11 फीट की भराव क्षमता पहुंचते ही पीछोला पर चादर चलने लगी और पानी स्वरूप सागर से छलकने लगा। आम तौर पर अगस्त के महीने में ही ओवरफ्लो होने वाली पीछोला झील को इस बार ओवरफ्लो होने में सितम्बर का अंतिम सप्ताह लग गया। ओवरफ्लो हाेने से अब इससे निकलने वाला पानी यूआईटी पुलिया के नीचे से आयड़ नदी होते हुए उदयसागर तक पहुंचेगा। हालांकि सीसारमा नदी से पीछोला झील में होने वाली आवक अब धीमी पड़ चुकी है, ऐसे में आयड़ नदी में पानी का कुछ खास बहाव देखने को नहीं मिलेगा।

अब फतहसागर के छलकने का इंतजार

पहले टीडी डैम, फिर गोवर्धन सागर और बड़ा मदार और अब पीछोला झील के लबालब होने से एक बार फिर उदयपुरवासियों को राहत मिली है। कई छोटे बांध पहले ही छलक चुके हैं। अब उदयपुर में फतहसागर, उदयसागर और छोटा मदार के छलकने का इंतजार है। इनमें से सबसे पहले छोटा मदार के छलकने के उम्मीद है। यह अबतक 19.7 फीट से ज्यादा भर चुका है। 21 फीट भराव क्षमता से यह लगभग सवा फीट ही खाली है। ऐसे में मदार क्षेत्र में एक अच्छी बरसात से यह भी छलक सकता है।

पीछोला झील से छलकने लगा पानी।
पीछोला झील से छलकने लगा पानी।

वहीं बड़ा मदार लिंक नहर से लगातार हो रही आवक से अब फतहसागर सिर्फ 2 फीट खाली रहा है। 13 फीट की भराव क्षमता वाली फतहसागर झील लगभग 11 फीट भर चुकी है। ऐसे में अगर छोटा मदार भी छलकता है तो दोनों छोटा और बड़ा दोनों मदार बांधों से इसमें पानी की आवक होगी। इससे इसके छलकने की उम्मीदें और भी बढेगी।

इधर उदयसागर झील भी अब सिर्फ 3 फीट खाली रही है। 24 फीट भराव क्षमता वाले उदयसागर का जलस्तर फिलहाल 21 फीट है। इसके भी छलकने की पूरी उम्मीद है। क्योंकि लबालब हो चुकी पीछोला झील में अब जो भी आवक होगी वो उदयसागर को ही मिलेगी। वहीं अगर फतहसागर छलकता है तो इसका एक्स्ट्रा पानी भी उदयसागर पहुंचेगा।

नहीं खुलेंगे स्वरूप सागर के गेट

पीछोला के लबालब होने के बावजूद फिलहाल स्वरूप सागर के गेट नहीं खुलेंगे। क्योंकि मानसून अपने आखिरी दौर में है और देवास बांध के गेट भी बंद हो चुके हैं। ऐसे में फिलहाल पीछोला के गेट नहीं खोले जाएंगे। पीछोला में सीसरमा नदी से भी सामान्य आवक हो रही है। अगर किसी दिन झील के कैचमेंट क्षेत्र में भारी बरसात होती है तो ही स्वरूप सागर के गेट खोले जाएंगे। अन्यथा पीछोला के ऊपर से सामान्य रूप से चादर चलती रहेगी।

कुछ दिन और अच्छी बरसात के आसार

सितम्बर के महीने में उदयपुर में अच्छी बरसात हुई है। मगर अभी भी उदयपुर में अगले कुछ दिन और अच्छी बरसात के आसार हैं। मौसम विभाग का अनुमान है कि उदयपुर सहित राजस्थान कुछ हिस्सों में अक्टूबर में भी बरसात होगी। ऐसे में उदयपुर में अगर एक-दो और अच्छी बरसात होती हैं तो यह शहर की झीलों के लिए अच्छा सकेंत होगा। साथ ही उदयपुर का बरसात का कोटा भी पूरा हो सकता है। अबतक उदयपुर में 496.29 एमएम बरसात हुई है।

खबरें और भी हैं...