• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Udaipur
  • After BJP Congress, Janata Sena Also Supported Ram, Bhinder Said Ram Is Not The Grandson Of Anyone, We Are The Real Descendants Of Lord Ram

राम के नाम पर सियासत:बीजेपी-कांग्रेस के बाद जनता सेना भी राम के सहारे, भींडर बोले - राम किसी की बपौती नहीं, भगवान राम के असली वंशज हम

उदयपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जनता सेना सुप्रीमो रणधीर सिंह भींडर। - Dainik Bhaskar
जनता सेना सुप्रीमो रणधीर सिंह भींडर।

उदयपुर की वल्लभनगर विधानसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव से पहले ही भाजपा भगवान राम के सहारे मैदान में उतरती दिख रही है। सियासी माहौल के बीच जनता सेना भी अब इस लड़ाई में पीछे नही हैं। पिछले दिनों गुलाबचंद कटारिया के भगवान श्रीराम को लेकर बयान पर सियासी तंज कसते हुए जनता सेना सुप्रीमो रणधीर सिंह भींडर ने कहा, राम के असली वंशज तो हम हैं। पहले बीजेपी से गुलाबचंद कटारिया, फिर कांग्रेस से परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास और अब रणधीर सिंह भींडर के बयान चुनावी मौसम का अहसास करवा रहे हैं।

जनता सेना सुप्रीमो रणधीर ने भाजपा-कांग्रेस की राम को लेकर बयानबाजी पर कहा कि ये दोनों दल तो दिखावें की लड़ाई लड़ रहे हैं। जबकि असल में खेल तो हमे रोकने का है। उन्होंने कहा कि कटारिया के बयान के पीछे कूटनीति नजर आती हैं। क्योंकि राम के नाम पर बखेड़ा करके इस मुद्दे को उन्होंने जानबुझकर उछाला है। जनता सेना चुनाव में उतरने के लिए तैयार है। भाजपा की यह राजनीति अब नही चलने वाली है।

राम मंदिर के सबसे पहले राजा-महाराजाओं ने लड़ाई लड़ी

भींडर ने कहा राम के असली वंशज तो मेवाड़ के राजा- महाराजा है। ऐसे में हम भी उन्हीं परिवार से है, तो राम के वंशज तो हम हुए। राम मंदिर की सबसे पहले लड़ाई राजा-महाराजाओं ने ही लड़ी। इसके बाद साधु-संतों और संघ ने इस लड़ाई में अपनी भागीदारी निभाई। उन्होंने कहा कि राम मंदिर निर्माण पर फैसला सुप्रीम कोर्ट ने किया है, बीजेपी ने नही। भींडर ने कहा कि कटारिया जानबूझकर कभी भगवान श्रीराम, तो कभी महाराणा प्रताप पर विवादित टिप्पणी करते है, ताकि लोगो मे उतेजना पैदा हो।

बता दें कि हाल ही में उदयपुर के बाठेड़ा में आयोजित एक कार्यक्रम में विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने कहा कि यदि बीजेपी नही होती, तो भगवान राम आज भी समुद्र में होते। कटारिया ने अपने अंदाज में कांग्रेस पर निशाना साधते हुए यह कहा था कि राम मंदिर निर्माण में बीजेपी ने शुरू से कम समर्पण नही किया।

इस मुद्दे पर कांग्रेस नेता और परिवहन मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास ने कहा कि भगवान राम सबके आराध्य हैं। बीजेपी को राम के नाम पर राजनीति करने का कोई अधिकार नहीं है। कोर्ट का फैसला भी भगवान राम के चाहने से ही आया। राम मंदिर के नाम पर श्रेय लेने का हक नहीं है, क्योकि प्रभु राम किसी की बपौती नहीं है। खाचरियावास ने कहा था कि राम किसी के गुलाम नहीं हैं, दुनिया की राम की गुलाम हैं।

खबरें और भी हैं...