उदयपुर में डॉक्टर कर रहा था रेमडेसिविर की कालाबाजारी:MBBS छात्र के साथ मिलकर बेच रहा था 2800 का इंजेक्शन 35 हजार में, पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार किया

उदयपुर2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस गिरफ्त में आरोपी डॉक्टर मोहम्मद अबीर और मोहित पाटीदार। - Dainik Bhaskar
पुलिस गिरफ्त में आरोपी डॉक्टर मोहम्मद अबीर और मोहित पाटीदार।

उदयपुर में कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज में काम आने वाले रेमडेसिविर इंजेक्शन की काला-बाजारी का मामला सामने आया है। बुधवार रात उदयपुर की स्पेशल पुलिस टीम ने कार्रवाई करते हुए डॉक्टर और MBBS छात्र को 2800 रुपए की कीमत के रेमडेसिविर इंजेक्शन को 35 हजार रुपए में बेचने के आरोप में गिरफ्तार किया है। उदयपुर पुलिस के एडिशनल SP गोपाल स्वरूप मेवाड़ा ने बताया कि फिलहाल आरोपियों से पूछताछ शुरू उनके साथियों की तलाश शुरू कर दी गई है।

रेमडेसिविर की कालाबाजारी:जयपुर में 48 जगहों पर ग्राहक बनकर पहुंची पुलिस, 15 हजार रुपए में बेच रहे थे एक इंजेक्शन, गैंग के 6 सदस्य गिरफ्तार

पुलिस ने रेमडेसिविर इंजेक्शन किए जब्त।
पुलिस ने रेमडेसिविर इंजेक्शन किए जब्त।

पीड़ित परिजनों ने स्पेशल पुलिस टीम से की थी शिकायत

उदयपुर स्पेशल पुलिस के डॉक्टर हनुमंत सिंह राजपुरोहित ने बताया कि कोरोना संक्रमित मरीज के परिजन की शिकायत पर इस पूरे गिरोह की जानकारी मिली थी। जिसके बाद योजनाबद्ध तरीके से पुलिस ने कालाबाजारी कर रहे मोहम्मद अबीर और मोहित पाटीदार से संपर्क किया। जिन्होंने 2800 की कीमत के रेमडेसिविर इंजेक्शन को 35 हजार में बेचने की बात कही। जिसके बाद स्पेशल पुलिस की टीम ने दोनों से 35 हजार में सौदा तय किया और आरोपियों को मिलने बुलाया। जहां रेमडेसिविर इंजेक्शन जब्त कर पुलिस ने दोनों को रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस गिरफ्त में कार्डियोलॉजिस्ट मोहम्मद अबीर।
पुलिस गिरफ्त में कार्डियोलॉजिस्ट मोहम्मद अबीर।

डॉक्टर और MBBS सेकंड ईयर का छात्र कर रहा था काला-बजारी

पुलिस ने बताया कि रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने के आरोप में गिरफ्तार डॉक्टर मोहम्मद अबीर (27) उदयपुर के गीतांजलि मेडिकल कॉलेज में कार्डियोलॉजिस्ट है। जो मूल रूप से उदयपुर के सवीना थाना क्षेत्र का रहने वाला है। वही मोहित पाटीदार (21) गीतांजलि मेडिकल कॉलेज में सेकंड ईयर का छात्र है। जो मूल रूप से डूंगरपुर के चिखली का रहने वाला है। ऐसे में पुलिस अब डॉक्टर अभी और मोहित की कॉल डिटेल के आधार पर अन्य चिकित्सक और मेडिकल स्टूडेंट से भी पूछताछ की तैयारी कर रही है।

पुलिस गिरफ्त में मोहित पाटीदार।
पुलिस गिरफ्त में मोहित पाटीदार।

एडिशनल SP गोपाल स्वरूप ने किया ऑपरेशन का सुपरविजन

उदयपुर पुलिस के एडिशनल एसपी गोपाल स्वरूप मेवाड़ा के नेतृत्व में इस डिकॉय ऑपरेशन को अंजाम दिया गया। जिसकी अगुवाई स्पेशल पुलिस के हनुमान सिंह कर रहे थे। इस कार्रवाई में स्पेशल पुलिस टीम के इतवारी लाल, सुखदेव सिंह, अनिल पूनिया, उपेंद्र सिंह, तपेंद्र भादू, मनमोहन सिंह, रविंद्र बुडावर, रामनिवास, फिरोज खान शामिल थे।

खबरें और भी हैं...