स्पोर्ट्स हब बनेगा जावर:इंटरनेशनल फुटबॉल एकेडमी के बाद अब तीरंदाजी एकेडमी व एथलीट ट्रैक बनेगा, काम अगले साल से

उदयपुरएक महीने पहलेलेखक: कैलाश सांखला
  • कॉपी लिंक
वेदांता स्पोर्ट्स के अध्यक्ष अनन्या अग्रवाल। - Dainik Bhaskar
वेदांता स्पोर्ट्स के अध्यक्ष अनन्या अग्रवाल।
  • प्रतिभाओं को तराशा जाएगा, हमारी फुटबॉल एकेडमी देशभर में प्रसिद्ध

2017 में प्रदेश की पहली इंटरनेशनल फुटबॉल एकेडमी बनाने के बाद हिन्दुस्तान जिंक अब उदयपुर से 40 किलोमीटर दूर स्थित जावर को स्पोर्ट्स हब बनाने की तैयारी कर रहा है। यहां इंटरनेशनल स्तर की तीरंदाजी एकेडमी और एथलीट के लिए ट्रैक फील्ड का काम अगले साल तक शुरू हो जाएगा। इसके अलावा खेलों से जुड़ीं अन्य कई सुविधाएं भी विकसित की जा रही है। वेदांता स्पोर्ट्स के अध्यक्ष अनन्या अग्रवाल ने बताया कि अगले साल वित्तीय वर्ष की शुरुआत तक जावरा को यह दोनों सौगातें मिल जाएंगी। यहां प्रदेशभर की प्रतिभाओं को तराशा जाएगा।

डीएवी स्कूल को भी अपग्रेड करेंगे, पढ़ाई के साथ मिलेगी खेलों की शिक्षा

विदेश की तर्ज पर ग्रास रूट से ही खिलाड़ियों को तैयार करने के लिए जावर स्थित डीएवी स्कूल को भी अपग्रेड किया जाएगा। इसे इंटरनेशनल एथलीट माॅडल पर तैयार किया जाएगा। स्कूल में प्रवेश के साथ ही छात्रों को हुनर के हिसाब से स्पोर्ट्स के लिए तैयार किया जाएगा। स्कूल में पढ़ाई, खान-पान और खेल डेवलपमेंट की सभी सुविधाएं दी जाएंगी।

शाजी प्रभाकरन, रेनेडी सिंह और बेमबेम देवी के निर्देशन में तैयार होंगे फुटबॉलर

जिंक फुटबॉल एकेडमी को आगे बढ़ाते हुए जिंक फुटबॉल के सलाहकार बोर्ड के सदस्य- भारतीय फुटबॉल टीम के पूर्व कप्तान रेनेडी सिंह, महिला फुटबॉलर ओइनम बेमबेम देवी और अनुभवी फुटबॉल प्रशासक शाजी प्रभाकरन के निर्देशन में खिलाड़ियों को तैयार किया जाएगा। अनन्या अग्रवाल ने बताया कि हमारा लक्ष्य है कि एकेडमी से ऐसी प्रतिभाओं को तैयार किया जाए जो आने वाले समय में देश के लिए खेलें। इसी लक्ष्य के साथ काम किया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...