पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

काेराेना काल में कंट्राेवर्सी:भास्कर ने मेवाड़ के दाेनाें दिग्गज नेताओं से पूछा सवाल- क्या इस संकट में सियासत करना ठीक है?

उदयपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कटारिया अपने नेताओं की तरह हम पर भी हावी होना चाहते हैं, आगे चल छेड़ा : रघु मीणा
  • मैं किसी पर हावी नहीं, रघु ने बात बढ़ाई, जवाब नहीं देता ताे मुझे ही गुनहगार मानते : कटारिया
Advertisement
Advertisement

(देवेंद्र शर्मा) उदयपुर में इन दिनों कोरोना के बाद दूसरी सबसे बड़ी कोई चर्चा है तो वह सीडब्ल्यूसी मेंबर रघुवीर मीणा और विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया के बीच चल रही जुबानी जंग की है। दोनों लगातार एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगा रहे हैं और ये सिलसिला लंबे अरसे से चल रहा है। गुलाबचंद कटारिया जहां प्रधानमंत्री के राहत पैकेज काे लेकर रघुवीर मीणा के सवाल उठाने पर उन्हें कहा था कि वे काैनसे अर्थशास्त्री हैं। वहीं दूसरी ओर रघुवीर मीणा ने लाॅकडाउन में झाड़ाेल जाकर कटारिया के अपनी जमीन की रजिस्ट्री करने काे लेकर सवाल उठाया गया था। मीणा ने इसकी शिकायत कलेक्टर से भी की थी। भास्कर ने जब दोनों नेताओं से इस पूरे प्रकरण काे लेकर बात की ताे दाेनाें एक दूसरे को जिम्मेदार ठहराते नजर आए। सीडब्ल्यूसी मेंबर रघुवीर मीणा ने कहा कि कटारिया भाजपा सांसद-विधायकों की तरह दूसरे नेताओं पर भी हावी होना चाहते हैं। इधर, कटारिया बोले कि मुझे किसी पर हावी होने की आदत नहीं, रघु अच्छा काम कर दिखाएं और वो हमसे ऊपर रहे। 
रघुवीर मीणा पूर्व सांसद और सीडब्ल्यूसी मेंबर
आप और नेता प्रतिपक्ष गुलाबचन्द कटारिया में जुबानी जंग चल रही है। क्या काेराेना के इस संकट काल में ये सियासत ठीक है?
अभी समय राजनीति करने का नहीं है। कटारिया अपने सांसद, विधायकों पर हावी रहते हैं, उसी तरह वे दूसरे नेताओं पर भी हावी होना चाहते हैं। 
आप विवाद की जड़ क्या मानते हैं?
जिम्मेदार तो कटारिया ही है। आगे चलकर हमें छेड़ा। पीएम के आर्थिक पैकेज पर मैंने सवाल उठाया। उन्होंने मुझे अंडर एस्टीमेट कर कहा कि मैं कौनसा विद्वान अर्थशास्त्री हूं। मैं इतने साल से राजनीति में हूं, कुछ तो मेरी भी सोच होगी। नीचा दिखाने का प्रयास किया है। उसी कारण विवाद बढ़ा।
आपको नहीं लगता कि नेताओं की बयानबाजी से कोरोना की जंग लड़ने वालों पर भी असर पड़ता है?
फर्क तो पड़ता ही है। उनके मन मे शंका पैदा होती है। कहीं न कहीं काम बाधित होता है।
क्या अब विवाद खत्म कर आप दोनों मिलकर कोरोना की जंग में सहयोगी नहीं बन सकते?
 मैं न तो अभी एमपी हूं, न एमएलए। साधारण नागरिक हूं। वो अभी एमएलए हैं। उन्हें सभी को साथ लेकर शहर का वातावरण ठीक करने का प्रयास करना चाहिए। हमारा कोई खेत का झगड़ा तो है नहीं।
 गुलाबचंद कटारिया : विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष 
 आपके और पूर्व सांसद रघुवीर मीणा के बीच सियासी विवाद चल रहा है, क्या इस वक्त ये ठीक है?
 सामने वाला गिर जाय तो जवाब देना ही उचित होता है। नहीं तो लगेगा कि हम अपराधी हैं, इसलिए चुप हैं। रजिस्ट्री कराने झाड़ोल जाकर मैंने कौनसा गुनाह किया। रघुवीर ने बेवजह बात आगे बढ़ाई। मेरे लिए ऐसे शब्दों का प्रयोग किया कि लिखे तो भी शर्म आ जाए।
 रघु मीणा का कहना है कि आप अपने नेताओं की तरह दूसरे नेताओं पर भी हावी रहना चाहते हैं?
मैं किसी पर दबाव नहीं बनाना चाहता न कभी किसी पर बनाया। मुझे किसी पर हावी होने की आदत रही ही नहीं। रघु अच्छा काम कर दिखाएं और मेरे से ऊपर रहें मुझे क्या हर्ज है।
आपकी नजर में अाखिर विवाद की वजह क्या है अाैर इसे खत्म करने के लिए क्या पहल करेंगे?
पीएम के पैकेज पर सवाल उठाया तो मैंने यही कहा कि आप कौनसे विद्वान अर्थशास्त्री हो। किसी जानकार की राय लेकर बोलते। मैं चाहता हूं कि सब अपने स्तर पर काम करे। कोरोना की लड़ाई तो सभी को लड़नी है। 
नेता प्रतिपक्ष के नाते उदयपुर में काेराेना काे लेकर प्रशासनिक स्तर पर हाे रहे काम काे कैसे देखते हैं?
जहां कुछ कमियां रह रही थीं, मैंने कलेक्टर को पत्र लिखा। उसके बाद एक्शन भी हुआ है। 

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - अपने जनसंपर्क को और अधिक मजबूत करें। इनके द्वारा आपको चमत्कारिक रूप से भावी लक्ष्य की प्राप्ति होगी। और आपके आत्म सम्मान व आत्मविश्वास में भी वृद्धि होगी। नेगेटिव- ध्यान रखें कि किसी की बात...

और पढ़ें

Advertisement