प्रतापगढ़ जेल में बंद दामाद की सुपारी:राजस्थान के बिजनेसमैन ससुर-साले ने दुबई में की मर्डर की प्लानिंग, मुंबई के शार्प शूटर किए हायर

उदयपुर5 महीने पहले
  • एसओजी ने उदयपुर में दबोचे सुपारी किलर्स, मेडिकल के लिए ले जाते समय मारनी थी गोली

अजमेर एसओजी की सूचना पर उदयपुर पुलिस की स्पेशल टीम ने 2 शॉर्प शूटर को पकड़ा है। दोनों बदमाश जेल में बंद एक कैदी फैजल की हत्या करने के इरादे से घूम रहे थे। दोनों ने बताया है कि उन्हें मुंबई और दुबई में ग्लास का कारोबार करने वाले बाप-बेटे ने फैजल की सुपारी दी थी। ये बाप-बेटे फैजल के ससुर और साले हैं। फैजल उनकी बेटी से अलग हो चुका है। फैजल ने ससुर के साले के बेटे की हत्या करवा दी थी। इसी के आरोप में जेल में बंद है।

बदले की भावना से दी सुपारी
पिता के कहने पर साले ने दुबई से बैठे-बैठे प्रतापगढ़ जेल में बंद जीजा को ठिकाने लगवाने की प्लानिंग की। इससे पहले ही एसओजी के इनपुट पर उदयपुर पुलिस ने दोनों शूटर्स को दबोच लिया। बदले की सनक ऐसी थी कि ससुर और साले ने दोनों शूटर प्लान ए और प्लान बी बनाए। दामाद के एक दोस्त और मुंबई से शॉर्प शूटर को हवाला के जरिए सुपारी के लिए एक लाख रुपए दिए। नई पिस्टल खरीदने के लिए 80 हजार भी दिए। ससुर ने शूटर्स से कहा था कि यदि दामाद को पिस्टल की गोली नहीं भी ​लग पाए तो उसे सल्फास की गोलियां ​खिलाकर मार देना। उसे जिंदा मत छोड़ना।

पुलिस ने पिस्टल को जब्त कर लिया है।
पुलिस ने पिस्टल को जब्त कर लिया है।

दहेज प्रताड़ना की रिपोर्ट भी
थानाधिकारी सुनील टेलर ने बताया कि करीब 2 साल पहले प्रतापगढ़ के रहने वाले फैजल खान का मुंबई की एक लड़की से निकाह हुआ। लड़की का परिवार मूल रूप से प्रतापगढ़ का ही था। कुछ समय बाद दोनों झगड़े के बाद अलग हो गए। इसके बाद दोनों परिवारों में बातचीत बंद हो गई। विवाहिता ने मुंबई के एक थाने में फैजल के खिलाफ दहेज प्रताड़ना का मामला दर्ज करवाया। इसी दौरान उसके मामा के लड़के और उसके दोस्त का अरनोद थाना क्षेत्र में मर्डर हो गया है। इस मामले में पुलिस ने फैजल को गिरफ्तार कर दोषी मानते हुए उसे जेल भेज दिया। फैजल ने ही हादसे का रूप देकर लड़की के ममेरे भाई का मर्डर करवाया था।

अजमेर एसओजी की टीम ने उदयपुर की डिस्ट्रिक्ट स्पेशल टीम के साथ मिलकर शार्प शूटर परवेज और हसनैन को गिरफ्तार कर लिया।
अजमेर एसओजी की टीम ने उदयपुर की डिस्ट्रिक्ट स्पेशल टीम के साथ मिलकर शार्प शूटर परवेज और हसनैन को गिरफ्तार कर लिया।

कांच के ग्लास बनाने की फैक्ट्री​​​ चलाते हैं
​​​ थानाधिकारी ने बताया अपने दामाद फैजल को मरवाने के लिए ससुर याकूब और साले मुसा ने दुबई से प्लानिंग की। वे प्रतापगढ़ के ही रहने वाले हैं। मुंबई और दुबई में कांच के ग्लास बनाने की फैक्ट्री चलाते हैं। इसके बाद बाप-बेटे ने मिलकर प्रतापगढ़ की जेल में बंद फैजल को मरवाने के लिए मुंबई के शॉर्प शूटर परवेज को सुपारी दी। परवेज फैजल को पहचानता नहीं था। इसके बाप-बेटे ने फैजल के दोस्त रह चुके उदयपुर के हसनैन को इसमें शामिल किया। इसके बाद प्लानिंग थी कि प्रतापगढ़ से उदयपुर में मेडिकल के लिए लाए जाने के दौरान दोनो शूटर्स मिलकर फैजल का मर्डर कर दें। सोमवार को फैजल को प्रतापगढ़ से उदयपुर में मेडिकल के लिए लाया जाना था। इससे पहले ही एक इनपुट के आधार पर अजमेर एसओजी की टीम उदयपुर पहुंच गई। उदयपुर की डिस्ट्रिक्ट स्पेशल टीम के साथ परवेज और हसनैन को पकड़ लिया। उनके कब्जे से 1 पिस्टल और 8 जिंदा कारतूस भी बरामद किया है।