पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बाल गृह का निरीक्षण:बिना अनुमति के ही चल रहा था बाल गृह, 23 बच्चे रखने का रिकॉर्ड मिला, मौके पर 13 मिले

उदयपुर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव ने किया सेक्टर 6 स्थित बाल गृह का निरीक्षण

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव एडीजे कुलदीप सूत्रकार ने मंगलवार दोपहर काे सेक्टर 6 स्थित महिला एवं बाल विकास समिति के नाम से संचालित बाल गृह का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण में पाया कि बाल अधिकारिता विभाग से अनुमित लिए बिना बच्चों काे बालगृह में रखा जा रहा है। इसके अलावा भी कई अनियमितता सामने आई हैं।

हालांकि यह सामने नहीं आया कि बच्चों काे यहां रखकर क्या काम करवाया जा रहा था। इसके लिए पूछताछ जारी है। अब बुधवार काे सीडब्ल्यूसी के समक्ष बच्चे पेश हाेंगे और उनकाे अलग बाल गृह में भेजा जाएगा। मंगलवार रात काे उसी गृह में बच्चे रहे।

एडीजे कुलदीप सूत्रकार ने बताया कि बाल गृह में निरीक्षण करने के लिए पहुंचे ताे गेट पर काेई गार्ड नहीं था। कुछ बच्चे बाथरूम में मिले ताे कुछ फर्श पर साेए हुए थे। संचालक काे बुलाया ताे उसने भी ठीक से जवाब नहीं दिया। बाल गृह पंजीकृत नहीं था।

बालकों को गृह में रखने के लिए किसी भी विभाग से कोई अनुमति प्रदान नहीं कर रखी थी। गेट पर कोई चौकीदार नहीं था। 20 मिनट गृह का निरीक्षण करने के बाद भी काेई नहीं आया। गृह में बच्चे नंगे फर्श पर सोए हुए पाए गए। काेराेना गाइडलाइन की पालना नहीं की जा रही थी, जिसमें सेनिटाइजर, मास्क सहित अन्य व्यवस्था नहीं थी। कर्मचारियों के उपस्थिति का रजिस्टर नहीं था। बालकों के उपस्थिति रजिस्टर को देखने पर पाया गया कि उसमें 4 से 6 अप्रैल तक बच्चों की उपस्थिति दर्ज नहीं थी।

बच्चों के नाश्ता, अल्पाहार और रात्री भोजन का कोई समय नहीं है। हर बच्चे से सुविधा शुल्क के नाम पर प्रतिमाह 1000 रुपए लिए जा रहे हैं। एडीजे सूत्रकार ने बताया कि अपंजीकृत गृह, शेल्टर होम, हाॅस्टल में बालकों को रखा जाता है तो यह गैर कानूनी है। इस गृह में पाई गई अनियमितताओं की रिपोर्ट बाल अधिकारिता विभाग के आयुक्त और विशिष्ट शासन सचिव काे भेजी जाएगी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आपका संतुलित तथा सकारात्मक व्यवहार आपको किसी भी शुभ-अशुभ स्थिति में उचित सामंजस्य बनाकर रखने में मदद करेगा। स्थान परिवर्तन संबंधी योजनाओं को मूर्तरूप देने के लिए समय अनुकूल है। नेगेटिव - इस...

    और पढ़ें