यूआईटी ने तैयार किया पेराफेरी पंचायतों का प्रस्ताव:संघर्ष समिति की यूआईटी सचिव से हुई वार्ता, नोटिफिकेशन जारी होने पर शिविरों में पेराफेरी पंचायते देगी पट्टें

उदयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मंगलवार को पेराफेरी जिला पंचायत संघर्ष समिति ने यूआईटी सचिव से वार्ता की। - Dainik Bhaskar
मंगलवार को पेराफेरी जिला पंचायत संघर्ष समिति ने यूआईटी सचिव से वार्ता की।

उदयपुर युआईटी ने पैराफेरी क्षेत्र में आने वाली 54 पंचायतों के 150 गांवों में पट्टों के लिए सर्वे करवाकर प्रस्ताव तैयार कर लिया है। बिलानाम आबादी और बिलानाम पर बसी आबादी के लिए आराजी का प्रस्ताव तैयार किया गया है, जो बुधवार को राज्य सरकार को भेज दिया जाएगा। मंगलवार को पेराफेरी जिला पंचायत संघर्ष समिति ने यूआईटी सचिव से वार्ता की।

यूआईटी सचिव अरुण हसीजा ने कहा कि सरकार स्तर से जल्द नोटिफिकेशन जारी होने की पूरी संभावना है। ये जमीन ग्राम पंचायतों को दी जाएगी, ताकि विशेष कैम्प लगाकर पट्टें जारी किए जा सके। संघर्ष समिति के संयोजक चन्दन सिंह देवड़ा ने बैठक में कहा कि 12 सालों से पेराफेरी पंचायतों में पट्टों की समस्या के समाधान के लिए 2 महीनों से संघर्ष जारी है। यूआईटी के नाम दर्ज आबादी जमीन अब जल्द पंचायतो के नाम होनी चाहिए ताकि बरसो से इंतजार कर रहे गरीब को उसके आशियाने का पट्टा जारी हो सके।

संघर्ष समिति के पदाधिकारी।
संघर्ष समिति के पदाधिकारी।

समिति जिलाध्यक्ष मदन पंडित ने कहा कि पैराफेरी को लेकर प्रशासन और सरकार की मंशा सकारात्मक है, लेकिन अभी भी ये संघर्ष जारी रहेगा। समिति के पदाधिकारियों के साथ वार्ता में यूआईटी सचिव अरुण हसीजा, डीटीपी ऋतु शर्मा समेत अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...