पर्युषण महापर्व:उत्तम क्षमा दिवस पर नहीं हुए सामूहिक कार्यक्रम, साेशल मीडिया से की क्षमापना

उदयपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • उत्तम क्षमा दिवस पर मुनि अमितसागर ने दिया ऑनलाइन प्रवचन

दिगंबर जैन समाज ने दशलक्षण पर्व के समापन के बाद बुधवार काे उत्तम क्षमा दिवस मनाया। काेराेना के चलते इस बार सामूहिक कार्यक्रम नहीं हुए। श्रावक-श्राविकाओं साेशल मीडिया के माध्यम और आस-पास के लाेगाें से साेशल डिस्टेंसिंग की पालना करते हुए वर्ष भर में अनजाने में की गलतियाें के लिए क्षमा मांगी।

गायरियावास स्थित दिगंबर जैन मंदिर में बुधवार काे उत्तम क्षमा दिवस मनाया। कार्यक्रम में मुनि अमितसागर ने कहा कि जब भी आप क्रोधित हों, तब आप मुस्कुराहट को अपनाकर क्षमा भाव काे सार्थक कर सकते हैं। इससे आपके मन से क्रोध नष्ट हो क्षमा भाव आएगा साथ ही मुस्कुराहट सामने वाले का क्रोध भी समाप्त कर देगी। उन्हाेंने कहा कि क्षमा हमें बैर भाव, पाप और अभिमान से दूर रखकर मोक्ष मार्ग की ओर ले जाता है।

नवकार मंत्र डेकोरेशन स्पर्धा में महिलाओं ने दिखाया उत्साह

जैन महिला मंच की ऑनलाइन नवकार मंत्र पर डेकोरेशन पर प्रतियोगिता हुई, साथ ही ऑनलाइन चाैबीसी गाई। मंच अध्यक्ष वंदना बाबेल ने बताया कि प्रतियोगिता में अनिता सिंघवी और रेखा चंडालिया प्रथम रही।

खबरें और भी हैं...