पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जुर्माना वसूल कर सख्त हिदायत:कोटरा में लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर जुर्माने का प्रावधान पर इसी गांव का कोरोना संक्रमित युवक दूसरे गांव में घूम रहा

उदयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • विरोध; उदयपुरवासियों ने संक्रमित युवक को अब नहीं आने दी हिदायत, कहा- गांव आने पर कराएंगे एफआईआर

ग्राम पंचायत कोटरा द्वारा गांव में बेवजह घूम रहे व बिना मास्क के घूम रहे जुर्माना वसूल कर सख्त हिदायत दी जा रही है कि दोबारा लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर उचित कार्रवाई की जाएगी। सरपंच प्रतिनिधि ऐमन वर्मा, सचिव पंचराम पाल व मितानिन गांव भ्रमण कर ग्रामीणों से संक्रमित व्यक्तियों से दूरी बनाए रखने व होम आइसोलेशन में रहने की हिदायत दी गई।

साथ ही ग्राम पंचायत के द्वारा सर्वसम्मति से यह नियम बनाया गया जिसके अंतर्गत बिना मास्क के घूमते पाए जाने पर 200 रुपए जुर्माना, बाहरी व्यक्तियों का आना-जाना पूर्ण रूप से निषेध, बेवजह घर से बाहर निकलना निषेध, बाहर घूमते पाए जाने पर 500 रुपए का जुर्माना का प्रावधान रखा गया है। ग्राम कोटरा निवासी रानू जंघेल पिछले चार-पांच दिन पहले कोरोना पॉजिटिव निकला है उसके बावजूद वह लगातार उदयपुर में घूमते हुए देखा गया है। उदयपुर के चंद्रेश मिश्रा, कुणाल मिश्रा, गुलशन तिवारी, श्यामू साहू, राहुल यादव, रवि यादव ने बताया कि ग्राम कोटरा निवासी रानू जंघेल कोरोना पॉजिटिव है इसके बाद भी हमारे गांव में घूम रहा था। जिसको देखते हुए बुलाया गया। उसने पॉजिटिव होना स्वीकार किया।

युवक के परिवार के तीन-चार सदस्य भी हैं संक्रमित
ग्राम कोटरा में भी लगातार कोरोना संक्रमितों की संख्या में वृद्धि हो रही है। इस कारण यहां सख्ती बरती जा रही है। यहां-आने वालों पर निगरानी की जा रही है। इसके बाद कुछ लोग लापरवाही बरत रहे हैं। उदयपुर ग्राम वासियों ने कहा कि अगर ग्राम पंचायत कोटरा कोई कार्रवाई नहीं करेगी तो उदयपुर के ग्राम वासियों द्वारा थाने में एफआईआर लिखवाया जाएगा। उदयपुर वासियों ने बताया कि रानू के पिता की विगत दिनों कोरोना संक्रमण से मौत हुई है। उसके बावजूद वह कोरोना को हल्के में ले रहा है। वहीं ग्राम कोटरा सरपंच प्रतिनिधि ऐमन वर्मा ने कहा कि मैंने रानू जंघेल को दो-तीन दिन पहले गांव में घूमते हुए देखा था, तो पूछा था कहां जा रहे हो तो दवाई लेने जा रहा हूं बताया। मैंने खुद उसको दवाई लाकर दिया, उनको मना किया कि तुम मत जाओ मैं ला कर दे रहा हूं और बार-बार बोलने के बाद भी नहीं मानता है। उसके परिवार में लगभग तीन चार लोग संक्रमित हैं कोरोना को एकदम हल्के में ले रहे हैं।

खबरें और भी हैं...