पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जिले में चार चरणों में लगेगी वैक्सीन:उदयपुर में 13 तक आ सकती है कोरोना वैक्सीन, 117 कोल्ड चेन, पहले चरण में 33 हजार को टीका

उदयपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
वैक्सीनेशन की तैयारियों को परखने के लिए शुक्रवार को शहर के तीन केंद्रों पर ड्राय रन किया जाएगा। इसमें वैक्सीनेशन की रिहर्सल होगी। इसकी तैयारियों का गुरुवार को जायजा लिया गया। - Dainik Bhaskar
वैक्सीनेशन की तैयारियों को परखने के लिए शुक्रवार को शहर के तीन केंद्रों पर ड्राय रन किया जाएगा। इसमें वैक्सीनेशन की रिहर्सल होगी। इसकी तैयारियों का गुरुवार को जायजा लिया गया।
  • निजी-सरकारी क्षेत्र में कार्यरत हेल्थ-वर्कर्स
  • पुलिस, प्रशासन और सफाईकर्मियों को
  • सबसे आखिरी चरण में आम लोगों को लगेगा
  • 50 से ज्यादा उम्र और गंभीर बीमारी वालों को

देश में 14 जनवरी से कोरोना की वैक्सीन लगनी शुरू हो जाएगी। उदयपुर में 13 जनवरी तक वैक्सीन आने की संभावना है। प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग ने वैक्सीनेशन का माइक्रो प्लान तैयार कर लिया है। जिले में 117 कोल्ड चेन बनाई गई हैं। इनमें वैक्सीन की 5 लाख डोज रखी जा सकेंगी। पहले फेज में जिले के 33 हजार हेल्थ वर्कर्स को वैक्सीन लगेगी। दूसरे फेज में पुलिस, शिक्षक, नगर निगम कर्मचारी, प्रशासन और सीधे लोगों के संपर्क में आने वाले कार्मिकों को डोज लगाई जाएगी। तीसरे फेज बाद 50 से ज्यादा उम्र वाले और गंभीर बीमारियों ग्रस्त लोगाें को वैक्सीन लगेगी। तीसरे और सबसे आखिरी फेज में आम लोगों को टीका लगेगा।

इधर, वैक्सीनेशन की तैयारियों को परखने के लिए शुक्रवार को जीबीएच एआईआईएमएस बेड़वास, जिला अस्पताल चांदपोल और सीएचसी नाई पर ड्राय रन हाेगा। इसमें 5 सदस्यीय वैक्सीनेशन टीम 25 हेल्थ वर्कर के साथ रिहर्सल करेगी। वैक्सीनेशन सेंटर में प्रवेश-निकासी द्वार, पंजीकरण डेस्क, टीकाकरण कक्ष और निगरानी कक्ष का मॉडल तैयार किए जा चुके हैं।

28 दिन बाद लगेगी दूसरी डोज

  • हर बूथ पर वैक्सीनेशन के लिए 3 कमरे बनाएंगे।
  • बूथ में प्रवेश करते ही वैक्सीन के लिए आए व्यक्ति को पहले कमरे में बिठाएंगे। दस्तावेजों की जांच होगी।
  • दूसरे कमरे में वैक्सीन लगाई जाएगी।
  • इसके बाद स्वास्थ्य की निगरानी के लिए तीसरे कमरे में ठहराया जाएगा।
  • पहली डाेज देने के बाद काेई दिक्कत नहीं होने पर 28 दिन बाद उसे दूसरी डाेज दी जाएगी।
  • इस दाैरान किसी मरीज काे काेई समस्या हाेती है ताे उसे तुरंत डॉक्टर काे दिखाना हाेगा।

Q. वैक्सीन आते ही क्या मैं लगवा सकूंगा?
नहीं, सरकार ने चार कैटेगरी तय की हैं। अभी सबसे पहले हेल्थ वर्कर को वैक्सीन लगेगी। इसके बाद फ्रंटलाइन वॉरियर्स (पुलिसकर्मी, शिक्षक सहित अन्य विभागों से जुड़े कार्मिक) को लगेगी। तीसरी कैटेगरी में गंभीर रोग से पीड़ित और 50 से अधिक आयु के व्यक्ति शामिल होंगे। चौथी कैटेगरी में आम लोगों को वैक्सीन लगेगी। अभी देश में एक करोड़ हैल्थ वर्कर, 2 करोड़ फ्रंटलाइन वाले चिह्नित किए जा चुके हैं।

Q. मेरी उम्र 50 साल से कम है, गंभीर रोग भी नहीं, मैं वैक्सीन कब लगवा सकूंगा?
-आम लोगों तक वैक्सीन पहुंचने में सालभर का समय लग सकता है। हालांकि सरकार मार्च तक वैक्सीन को खुले बाजार में उतार सकती है। तब आपके लिए वैक्सीन की राह खुल सकती है।
Q. मुझे कोरोना हुआ था, लेकिन अब ठीक हूं, क्या मेरे लिए वैक्सीन लेना जरूरी है?
-आप भी वैक्सीन लगवा सकते हैं। यह मजबूत प्रतिरोधकता विकसित करने में मदद करेगा।
Q. मैं कैंसर, मधुमेह, हाई बीपी जैसी बीमारियों की दवा लेता हूं, क्या वैक्सीन लगवा सकूंगा?
-हां, इनमें से एक या एक से अधिक बीमारी होने पर कोरोना वैक्सीन ली जा सकेगी। आप हाई रिस्क मरीजों में शामिल होंगे।
Q. मैंने पंजीकरण करा लिया, लेकिन आईडी लेकर सेंटर पर नहीं गया तो?
-कोरोना वैक्सीनेशन के लिए पंजीकरण के साथ फोटो आईडी भी जरूरी होगा। वैक्सीनेशन स्थल पर ये दोनों ही दिखाने होंगे।
Q. रजिस्ट्रेशन कराने के बाद मुझे वैक्सीन कब लगेगी?
-अगर आपका रजिस्ट्रेशन हो गया है तो आपके पास वैक्सीनेशन से दो दिन पहले मैसेज आएगा। इसमें वैक्सीनेशन सेंटर और समय की जानकारी होगी। हालांकि, शुरुआती दौर में सभी का पंजीकरण नहीं होगा।
Q. वैक्सीनेशन के लिए कहां जाना होगा?
-शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में वैक्सीनेशन सेंटर बनाए जाएंगे। इनमें मेडिकल कॉलेज, हॉस्पिटल, स्वास्थ्य केंद्र शामिल होंगे। स्वास्थ केंद्र दूर होने की स्थिति में स्कूल, पंचायत भवनों में भी सेंटर बनेंगे।
Q. वैक्सीनेशन सेंटर पर क्या प्रक्रिया रहेगी?
-पुलिस कांस्टेबल तैनात रहेगा। जिसके पास चेकलिस्ट होगी। वह संबधित व्यक्ति का रजिस्ट्रेशन चेक करेगा। इसके बाद वैक्सीनेशन ऑफिसर आईडी चेक करके टीका लगाएगा। एक अन्य वैक्सीनेशन ऑफिसर सेंटर पर सोशल डिस्टेंसिंग सुनिश्चित करेगा। मेडिकल कॉलेज में तृतीय वर्ष के छात्र की भी सहायता लेंगे।
Q. हेल्थ वर्कर में कौन-कौन शामिल होंगे?
-निजी और सरकारी हॉस्पिटल या स्वास्थ्य केंद्र में काम करने वाले सभी हेल्थ वर्कर को वैक्सीन लगाई जाएगी। इसमें आयुर्वेद, होम्योपेथी से लेकर हर स्वास्थ्यकर्मी को कवर किया जाएगा। सरकारी अस्पताल के कार्मिकों की जिम्मेदार स्वास्थ्य विभाग के पास होगी। निजी क्षेत्र में काम करने वाले हेल्थ वर्कर के लिए इंडियन मेडिकल एसोसिएशन व्यवस्था देखेगा।
Q. उदयपुर के लिए कितने डोज की आवश्यकता रहेगी?
-गाइडलाइन के अनुसार एक व्यक्ति को दो डोज लगेंगे। पहले डोज के हिसाब से शहर में करीब 5 लाख और जिले में 30 लाख डोज की आवश्यकता रहेगी। फिलहाल बाजार में वैक्सीन की उपलब्धता को लेकर कोई सूचना नहीं है।

क्या वैक्सीन के साइड इफैक्ट हाेंगे?
कोरोना के अलावा दूसरी वैक्सीन लगाने पर भी कुछ व्यक्तियों में सामान्य दुष्प्रभाव, जैसे हल्का बुखार, दर्द आदि हो सकते हैं। इसके लिए राज्यों को किसी भी दुष्प्रभाव से निपटने की व्यवस्था करने के लिए कहा गया है। टीका लगने के बाद वैक्सीनेशन सेंटर पर 30 मिनट तक निगरानी रहेगी। इसके बाद भी निगरानी दल संबंधित व्यक्ति की लगातार मॉनिटरिंग करेगा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- किसी विशिष्ट कार्य को पूरा करने में आपकी मेहनत आज कामयाब होगी। समय में सकारात्मक परिवर्तन आ रहा है। घर और समाज में भी आपके योगदान व काम की सराहना होगी। नेगेटिव- किसी नजदीकी संबंधी की वजह स...

    और पढ़ें