पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

उदयपुर में तीसरे दिन भी विरोध जारी:कांग्रेस के खिलाफ में उदयपुर में पार्षदों ने किया प्रदर्शन, कहा लोकतंत्र की हत्या कर महापौर सौम्या का किया गया निलंबन

उदयपुर5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
नगर निगम मुख्यालय पर विरोध प्रदर्शन करते बीजेपी के पार्षद। - Dainik Bhaskar
नगर निगम मुख्यालय पर विरोध प्रदर्शन करते बीजेपी के पार्षद।

राजधानी जयपुर में ग्रेटर महापौर सौम्या गुर्जर के निलंबन को लेकर विरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है। गुरुवार को उदयपुर नगर निगम के भाजपा पार्षदों ने सौम्या के समर्थन में विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान बीजेपी पार्षदों ने सौम्या के निलंबन के फैसले को वापस लेने की मांग की। साथ ही ऐसा नहीं होने पर उग्र आंदोलन की भी चेतावनी दी।

रायपुर उपमहापौर पारस सिंघवी ने कहा कि राजस्थान की कांग्रेस सरकार लोकतंत्र की हत्या कर सत्ता हथियाना चाहती है। लेकिन राजस्थान की जनता और बीजेपी कांग्रेस की तानाशाही नहीं सहेगी। ऐसे में अगर कांग्रेस की सरकार द्वारा राजधानी जयपुर में महापौर सौम्या गुर्जर और भाजपा के तीन पार्षदों का निलंबन रद्द नहीं किया गया। तो प्रदेश व्यापी उग्र आंदोलन किया जाएगा। जिसके लिए सिर्फ कांग्रेस की सरकार जिम्मेदार होगी।

बता दे की राजधानी जयपुर में महापौर सौम्या गुर्जर का नगर निगम आयुक्त से विवाद हो गया था। जिसके बाद स्वास्थ्य शासन विभाग ने आदेश जारी कर सौम्या गुर्जर समेत तीन पार्षदों को निलंबित कर दिया है। जिसको लेकर पिछले 3 दिनों से प्रदेश भर में भाजपा के नेता से लेकर कार्यकर्ता सड़क पर उतर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

वहीं दूसरी ओर बीजेपी की ही कार्यवाहक महापौर सत्ता और संगठन में तालमेल कर जयपुर में निगम की सरकार चलाने की कोशिश में जुटी हुई है। ऐसे में अब देखना होगा बीजेपी के बढ़ते विरोध के बाद प्रदेश सरकार इस पूरे मामले पर क्या फैसला करती है।

खबरें और भी हैं...