पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

झील प्रेमियाें काे चिंता:रिंग रोड के पास से पीछोला झील में क्रूज उतारा, डीटीओ ने बनाया चालान, बाेलीं- न फिटनेस सर्टिफिकेट लिया न लाइसेंस

उदयपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • निगम की कमाई के चक्कर में बर्बाद न हाे जाए शहर काे पानी पिलाने वाली झील
  • विवाद : नगर निगम और क्रूज संचालक कंपनी बाेली- नियमानुसार ही चलाएंगे, पानी में फाइनल टचिंग काे उतारा

शहर के सवा लाख लाेगाें की प्यास बुझाने वाली पीछोला झील में रविवार काे क्रूज उतारते ही फिर विवाद गहरा गया। सीसारमा छाेर पर पीछोला रिंग राेड के पास झील में क्रूज खड़ा देख झील प्रेमी हरकत में आ गए ताे जिला परिवहन अधिकारी (डीटीओ) कल्पना शर्मा ने माैके पर पहुंच कर चालान बनाया। कहा- बिना फिटनेस और लाइसेंस के झील में क्रूज नहीं चला सकते। हालांकि नगर निगम और क्रूज संचालक कंपनी का कहना है कि क्रूज काे नियमानुसार ही चलाएंगे, अभी पानी में फाइनल टचिंग के लिए उतारा है, जाे नियमानुसार है।

दरअसल, नगर निगम के पिछले बाेर्ड में पीछोला में क्रूज चलाने का निर्णय हुआ था। इसके टेंडर भी हुए थे, जाे एमएम इंटरप्राइजेज के नाम खुला था। इसके तहत निगम और कंपनी के बीच सात साल का करार हुआ है। यह क्रूज डबल डेकर है, जिसमें 150 लाेगाें के बैठ सकते हैं। 75 लाेग एयरकंडीशनर युक्त फर्स्ट फ्लाेर पर, जबकि 75 सेकंड फ्लाेर पर बैठ सकेंगे। इसमें लंच, डीनर, जलपान की सुविधा हाेगी। टाॅयलेट भी बनाए गए हैं।

कोर्ट ने कहा था-विभागों से एनओसी लेने के बाद ही हो संचालन

क्रूज संचालन का मामला सबसे पहले स्थानीय काेर्ट में भी पहुंचा था। उसमें काेर्ट ने सशर्त संचालन की अनुमति दी। इसमें यह शर्त भी शामिल है कि विधि अनुरूप संबंधित विभागाें से अनापत्ति प्रमाण पत्र प्राप्त करने के बाद ही क्रूज का संचालन करें। हाेली के दिन इस क्रूज काे झील में उतारते ही झील प्रेमी हरकत में आ गए। उन्हाेंने इसकी शिकायत प्रशासन से की। डीटीओ माैके पर पहुंचीं ताे पता चला अभी न ताे फिटनेस सर्टिफिकेट लिया है और ना ली लाइसेेंस जारी करवाया है। इस पर चालान बनाते हुए संचालक काे फिटनेस और लाइसेंस के लिए अावेदन करने काे कहा।

क्रूज पर रोक लगाने के लिए कांग्रेस पार्षद भगतानी ने सीएम गहलोत को लिखा पत्र

मंगलवार काे कांग्रेसी पार्षद संजय भगतानी ने भी एडीएम प्रशासन ओपी बुनकर काे मुख्यमंत्री के नाम शिकायती पत्र देकर पीछोला में क्रूज संचालन पर राेक की मांग की है। भगतानी से झीलाें में डीजल से चलने वाली नावें भी बंद करने की मांग भी की। झील प्रेमियाें काे सबसे बड़ी चिंता झील प्रदूषित हाेने की है।

पीछाेला शहर की प्यास बुझाने के लिए है, कमाने के लिए नहीं

क्रूज चलाने के दुष्परिणाम आज नहीं ताे कल सामने आ ही जाएंगे। कुछ हाेटल संचालक नाव की आड़ में तैरता रेस्टाेरेंट पहले से चला रहे हैं और उसमें शराब पिलाने की शिकायतेें भी आरही हैं। ऐसे में इतने बड़े क्रूज में इस प्रकार की गतिविधियां नहीं हाेंगी, इसकी क्या गारंटी? पीछोला शहर की प्यास बुझाने के लिए है, कमाने के लिए नहीं। -तेज शंकर पालीवाल, सदस्य झील सुरक्षा एवं विकास समिति

बाेर्ड के फैसले के तहत ही क्रूज उतारा

पिछली बाेर्ड बैठक ने पीछोला में क्रूज संचालन का निर्णय लिया था, उसी के तहत झील में क्रूज उतारा है। रही बात झील संरक्षण की ताे निगम की पूरी माॅनिटरिंग रहेगी ताकि पीछोला काे नुकसान ना हाे। -हिम्मतसिंह बारहठ, निगम आयुक्त

दाे माह पानी में फाइनल टचिंग हाेगी

क्रूज काे रोलर बलून तकनीक से उतारा है। करीब दाे महीने तक पानी में ही इसे फाइनल टचिंग दी जाएगी। फाइनल अनुमति के बाद ही पर्यटकाें के लिए खाेला जाएगा। -मजहर खान, क्रूज संचालक

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- व्यक्तिगत तथा व्यवहारिक गतिविधियों में बेहतरीन व्यवस्था बनी रहेगी। नई-नई जानकारियां हासिल करने में भी उचित समय व्यतीत होगा। अपने मनपसंद कार्यों में कुछ समय व्यतीत करने से मन प्रफुल्लित रहेगा ...

    और पढ़ें