पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सिलेंडर से सब्सिडी लीक:एक साल में सिलेंडर 125 रु. महंगा, सब्सिडी 251 से घटकर 21 रुपए, 2 माह मिली ही नहीं

उदयपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • उज्ज्वला योजना में 2.55 लाख कनेक्शन, 20 हजार ने दुबारा सिलेंडर लेने में रुचि नहीं दिखाई

कोरोना काल के कारण गैस में सब्सिडी का ऐसा लीकेज हुआ है कि उपभोक्ताओं खाते में 163.39 रुपए आने वाली सब्सिडी 21 रुपए हो गई। इसके चलते जो सिलेंडर जनवरी-20 में 578 रुपए में मिल रहा था, वह जनवरी-21 में 703 रुपए में मिला। शहर में कुल तीन लाख उपभोक्ता है। इनमें से ढाई लाख उपभोक्ता सब्सिडी लेते हैं।

वहीं जिले में उज्जवला के 2.55 लाख कनेक्शन हैं। इनमें से 20 हजार ने दुबारा सिलेंडर भरवाया ही नहीं। जो बुक करा रहे हैं वे भी सब्सिडी के लिए गैस कंपनियों के चक्कर लगा रहे हैं। ड्रिस्ट्रीब्टर्स के मुताबिक उज्ज्वला योजना में आने वाले गैस उपभोक्ता बुरी तरह प्रभावित हुए हैं। दाम बढ़ने और सब्सिडी कम होने से गरीब-बीपीएल परिवार फिर से लकड़ी-चूल्हे का रुख करने लगे हैं।

इसका असर बिक्री पर भी दिख रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में 5-8 फीसदी तक गैस सिलेंडर की बिक्री कम हुई है। लॉकडाउन के बाद से ही सब्सिडी आनी बंद हो गई थी। मई और जून में गैस सिलेंडर का पूरा भुगतान करना पड़ा। जिसके बाद जुलाई में 18.98 रुपए और अगस्त में 20.98 रुपए सब्सिडी आई। उपभोक्ता को अब सिलेंडर का लगभग पूरा भुगतान ही करना पड़ रहा है। इसके चलते 125.91 रुपए अतिरिक्त चुकाना पड़ रहा है।

सब्सिडी के नाम पर पिछले साल मई-जून में 1 पैसा नहीं
गैस एजेंसियों से मिले आंकड़ों के अनुसार उपभोक्ताओं के खातों में मई और जून महीने में तो सब्सिडी ही नहीं आई थी। उपभोक्ताओं की ओर से उस समय एजेंसियों को बहुत फोन किए गए थे। एजेंसी संचालकों द्वारा ग्राहकों को समझाना भारी पड़ रहा था कि सब्सिडी केंद्र सरकार देती है एजेंसी नहीं। जुलाई माह में सरकार ने सब्सिडी फिर शुरू कर दी। अगस्त से अक्टूबर तक 21 रुपए सब्सिडी मिली। नवंबर मेंं सिलेंडर 50 रुपए महंगा हुआ, लेकिन सब्सिडी महज डेढ़ रुपए ही बढ़ी। दिसंबर में 50 रुपए बढ़े। लेकिन सब्सिडी 21 रुपए 48 पैसे ही है।

उज्ज्वला कनेक्शन वाले बोले- हम क्यों लें इतनी महंगी टंकी, लकड़ियां ही ठीक हैं

  • उज्जवला योजना में कनेक्शन लेने वाली झाड़ाेल की भूरी बाई से जब छह महीने से सिलेंडर बुक नहीं करने के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा कि कनेक्शन देते समय फ्री में टंकियां दी गई, अब इतनी महंगी टंकी कौन मंगाए। हमारे लिए तो चूल्हा ही ठीक है।
  • सराड़ा की रामा ने कहा कि टंकी की कीमत में तो सप्ताहभर का राशन आ जाता है। हम तो नहीं मंगाएंगे।
  • संगीता देवी बोली- जब कनेक्शन लिया था, तब पता नहीं था कि टंकी इतनी महंगी मिलती है।

सब्सिडी घटने से परेशान हैं उपभोक्ता
सब्सिडी कम होने से उपभोक्ता परेशान हैं। पहले सिलेंडर महंगा होता था तो सब्सिडी बढ़ाई जाती थी, लेकिन अब सब्सिडी ही 20 रुपए कर दी। वहीं, सिलेंडर के दाम में भी पिछले छह महीने से काफी बढ़ हैं।
-सुशील बापना, ड्रिस्ट्रीब्यूटर, भारत गैस एजेंसी

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कहीं इन्वेस्टमेंट करने के लिए समय उत्तम है, लेकिन किसी अनुभवी व्यक्ति का मार्गदर्शन अवश्य लें। धार्मिक तथा आध्यात्मिक गतिविधियों में भी आपका विशेष योगदान रहेगा। किसी नजदीकी संबंधी द्वारा शुभ ...

    और पढ़ें