• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Udaipur
  • Demonstration For Leases, People Said Understand Well Leaders And Ministers, The Power Lease Is Also 5 Years Old, We Will Snatch

अधिकार की पैरवी:पट्टों के लिए प्रदर्शन, लोग बोले- अच्छे से समझ लें नेता और मंत्री, सत्ता का पट्‌टा भी 5 साल का, हम छीन लेंगे

उदयपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पट्‌टों के लिए मंगलवार को कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन करते कच्ची बस्तियों के लोग। - Dainik Bhaskar
पट्‌टों के लिए मंगलवार को कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन करते कच्ची बस्तियों के लोग।
  • कच्ची बस्ती फेडरेशन और आवास अधिकार मंच ने जताया आक्रोश, चेतावनी दी- पट्टे नहीं तो वोट भी नहीं

कच्ची बस्ती फेडरेशन और आवास अधिकार संघर्ष मंच ने पट्टों की मांग को लेकर मंगलवार को कलेक्ट्री पर प्रदर्शन किया। सभा में समाजवादी नेता और जनता दल (धर्मनिरपेक्ष) के प्रदेशाध्यक्ष अर्जुन देथा ने कहा कि सरकार पहाड़ियों पर माइनिंग और रिसोर्ट बनाने के लिए हर तरह की समस्या दूर करके पट्टे दे रही है, लेकिन आमजन हमेशा परेशान होता है। भाजपा हो या कांग्रेस, हर पार्टी भूमाफियाओं की पार्टी है। जरूरतमंदों और वंचितों को हक नहीं मिला तो आने वाले चुनावों में सरकार से सत्ता का पट्‌टा छीन लेंगे।

देथा ने कहा कि संविधान सभा के सदस्य और स्वतंत्रता सेनानी बलवंत सिंह मेहता ने भी कच्ची बस्तियों को बसाने के संघर्ष में इसी कलेक्ट्री के बाहर पुलिस की लाठियां खाकर अपना खून बहाया है। ऐसे में पट्टों की मांग मानना सरकार और प्रशासन की ओर से मेहता को भी श्रद्धांजलि होगी। कच्ची बस्ती फेडरेशन के अध्यक्ष प्रताप सिंह देवड़ा ने कहा कि शहर को स्मार्ट सिटी बनाया जा रहा है, वहीं दूसरी तरफ कच्ची बस्ती के लोग आज तक पट्टों और बुनियादी सुविधाओं से दूर हैं।

इससे सरकार-प्रशासन की कथनी और करनी में फर्क साफ नजर आता है। फैडरेशन के महासचिव राजेश सिंघवी ने कहा कि दोनों पार्टियों ने मिलकर शहर को प्रॉपर्टी डीलरों के हवाले कर दिया है। इन जनप्रतिनिधियों को याद रखना चाहिए कि उनका पट्टा भी पांच साल का ही है। उन्होंने जनता के हक और हित के काम नहीं किए तो जनता पांच साल बाद उनका पट्टा छीन कर उन्हें सत्ता से बाहर कर देगी।

सरकार और अफसरों पर भूमाफिया-जमीन दलालों से मिलीभगत के आरोप

आवास अधिकार संघर्ष मंच के कार्यवाहक अध्यक्ष हीरालाल सालवी ने कहा कि अपना घर या मकान किसी आदमी का सपना ही नहीं, बल्कि उसका अधिकार भी है। लेकिन सरकार, भूमाफियाओं और भ्रष्ट दलालों के गठजोड़ ने आम आदमी के इस सपने को चकनाचूर कर दिया है।

इस दौरान जनवादी महिला समिति की संयोजक केसर देवी रेगर, पार्षद राजेन्द्र वसीटा, मंजू सिंघवी, नौजवान सभा के राज्य कमेटी सदस्य पवन बेनीवाल, दामोदर कुमावत ने भी संबोधित किया। इस दौरान पट्टे नहीं मिलने पर शहर में आने वाले सभी विधायकों, सांसदों, मंत्रियों का घेराव करने की भी चेतावनी दी। साथ ही ‘पट्टे नहीं तो भाजपा-कांग्रेस को वोट नहीं’ अभियान चलाने के लिए भी सर्वसम्मति से फैसला लिया गया।

खबरें और भी हैं...