पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Udaipur
  • FA Abid Got Objections From A Rival Firm After Missing A Low rate Tender, Then Said He Was Giving 7 Lakhs, How Much Will You Give?

दो लाख की रिश्वत का मामला:कम रेट वाला टेंडर छूटने पर एफए आबिद ने प्रतिद्वंद्वी फर्म से लगवाए ऑब्जेक्शन, फिर कहा- वो 7 लाख दे रहा, तुम कितने दोगे

उदयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • दो साल के लिए थी 136 ऑटो टिपर की निविदा, 118 की मंजूरी दे 18 निर्माण शाखा से लगवा दिए
  • मांग पूरी होने में देरी हुई तो अटका दिए 45 लाख रुपए के बिल

दो लाख रुपए की घूस लेते एसीबी, जयपुर के हाथों शुक्रवार को गिरफ्तार उदयपुर स्मार्ट सिटी कंपनी का फाइनेंशियल एडवाइजर आबिद खान ठेकेदार से 7 लाख रुपए लेने पर अड़ा था। मांग पूरी नहीं होने पर उसने तकनीकी पहलुओं में उलझाते हुए उदयपुर-जयपुर के बीच 45 लाख रुपए के बिल अटका दिए थे।

प्रताड़ना बढ़ने पर ठेकेदार प्रवीण एसीबी में जा पहुंचा और शिकायत कर दी। प्रवीण ने ब्यूरो अधिकारियों को आबिद खान और उसके दलाल आसिफ की हरकतें बताईं। आबिद खान के पास नगर निगम के फाइनेंशियल एडवाइजर का अतिरिक्त चार्ज भी है। प्रवीण ने बताया कि कचरा निस्तारण के लिए 136 अाॅटाे का टेंडर मिलने के बाद से अाबिद की प्रताड़ना शुरू हाे गई थी।

परिवादी प्रवीण ने बताया कि नौ महीने पहले निगम ने शहर में डाेर टू डाेर कचरा संग्रहण ऑटो टिपर चलाने के लिए टेंडर निकले थे। इसमें 136 ऑटाे की जरूरत बताई थी। टेंडर प्रक्रिया में आबिद की एक चहेती कंपनी भी आई थी, जिसने प्रति ऑटो टिपर 70 हजार का प्रस्ताव दिया था, जबकि मेरी कंपनी ने यही दर 20 हजार रुपए दी थी।

नियमानुसार कम दर होने पर मेरी कंपनी को टेंडर मिला तो आबिद ने उक्त कंपनी के जरिए ऑब्जेक्शन लगवा दिए। फिर अपने घर बुलाकर कहा कि सामने वाला (उसकी चहेती कंपनी का संचालक) 7 लाख रुपए दे रहा है, आप कितने दाेगे। फिर पूछा- अभी कितने लाया है। प्रवीण के मुताबिक तब उसके पास 20 हजार रुपए थे, जाे आबिद काे दे दिए, लेकिन टेंडर जारी हाेने के बाद 136 की जगह 118 ऑटाे की ही मंजूरी दी गई।

बाकी 18 निर्माण शाखा से जारी करवा दिए। प्रवीण ने बताया कि वाहनाें का संचालन मैं ही कर रहा था, फिर भी बिना सूचना दिए नया टेंडर जारी किया। जबकि पूर्व निविदा की अवधि दो साल थी। पत्र में इस पर सवाल उठाने पर आबिद ने 14 लाख रुपए का बिल तकनीकी कारण बताकर जयपुर भेज दिया। इसके समेत अप्रैल, मई और जून के करीब 45 लाख रुपए के बिल भी अटका दिए।

शिकायत पर अधिकारियाें ने आश्वासन दिया, लेकिन कार्रवाई कुछ नहीं हुई। फिर एसीबी पहुंचा। इसी बीच आबिद ने कुछ दिन पहले गांव जाने की जानकारी देकर बुलाया। इस बातचीत के बाद उसने गुरुवार को एक लाख रुपए लिए और दाे लाख रुपए शुक्रवार को लाने के लिए कहा।

अब कई ठेकेदारों ने की आबिद की  गैर वाजिब मांगों की शिकायतें

एसीबी के एएसपी संजीव नैन ने बताया कि कार्रवाई के बाद कई ठेकेदार और कर्मचारियाें ने संपर्क किया। कुछ खुद आए, जबकि कुछ ने फाेन पर एफए आबिद खान की गैर वाजिब मांगों और प्रताड़ना की पीड़ा बताई। एएसपी नैन ने बताया कि आाबिद खान के उदयपुर स्थित घर से एक लाख रुपए बरामद हुए हैं। काेटा और उदयपुर स्थित घर से संपत्ति के दस्तावेज भी मिले हैं, जिनकी जांच चल रही है। अब यह भी जांच करेंगे कि इसके पीछे निगम और स्मार्ट सिटी प्राेजेक्ट में काैन-काैन जुड़ा हुआ है।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- आर्थिक दृष्टि से आज का दिन आपके लिए उपलब्धियां ला रहा है। उन्हें सफल बनाने के लिए आपको दृढ़ निश्चयी होकर काम करना है। आज कुछ समय स्वयं के लिए भी व्यतीत करें। आत्म अवलोकन करने से आपको बहुत अधिक...

और पढ़ें