उदयपुर में दर्दनाक हादसे में मौत:नदी के बीच रास्ता पार करते समय पैर फिसला, पानी निकलने के पाइप में फंसने से गई जान

उदयपुर4 महीने पहले
सिविल डिफेंस की टीम को शव निकालने में काफी मशक्कत करनी पड़ी।

उदयपुर के कोटड़ा इलाके में एक मासूम की पानी निकलने के पाइप में फंसने से दर्दनाक मौत हो गई। हादसा यहां के खजूरीया इलाके में हुआ। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवाया और फिर परिवार के लोगों को शव दिया। पानी का बहाव तेज होने से नारायण पानी निकलने वाले पाइप में फंस गया। इस हादसे में सायरा के रहने वाले 15 साल के नारायण की मौत हो गई।

हादसे को लेकर सामने आया कि खजूरीया और काला खेतरा के बीच एक पुलिया का काम चल रहा है। ऐसे में इसके लिए एक वैकल्पिक मार्ग बनाया हुआ है। नदी के बीच से इस मार्ग के बीच पानी निकलने के लिए पाइप लगाया हुआ है। उसी रास्ते पर तेज बरसात के चलते पानी ज्यादा था। वहीं उस दौरान नारायण खजुरिया से काला खेतरा जा रहा था। नदी के बीच पहुंचने के बाद उसका पैर फिसल गया और वह नीचे गिर गया। पानी का बहाव तेज होने से नारायण पानी निकलने वाले पाइप में फंस गया।

तेज बहाव ओर बहते पत्थरों के कारण वो बाहर नहीं निकल पाया। आसपास के लोगों ने काफी प्रयास किया मगर पानी का बहाव तेज होने से कुछ नही कर पाए। हादसे की सूचना मिलने पर डीप्टी कुशालराम चोरड़या, मांडवा थानाधिकारी उत्तमसिंह, एएसआई सूरजमल, सरपंच विशनाराम मौके एनडीआरएफ की जवानों को लेकर पहुंचे। जवानों ने रेस्क्यू कर पाइप में फंसे शव का मशक्कत के बाद बाहर निकाला।

इनपुट : शाहीद खान पठान।