पीछोला की दुर्दशा:पूर्व सांसद मीणा ने देखी पीछोला की दुर्दशा, कलेक्टर को बताए हालात

उदयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पिछले दो माह से गंदगी से बदहाल पीछोला-कुम्हारिया-रंग सागर-अमरकुंड को देखने के लिए अब मंगलवार को कांग्रेस वर्किंग कमेटी के सदस्य और उदयपुर के पूर्व सांसद रघुवीर सिंह मीणा इन जलाशयों पर पहुंचे। पूर्व सांसद मीणा झीलों की दुर्दशा देख हैरान रह गए। शहर की प्रसिद्ध झीलों की दशा सुधारने के लिए उन्होंने कलेक्टर चेतन देवड़ा को अवगत कराया। दरअसल, पूर्व सांसद मीणा मंगलवार को ओल्ड सिटी एरिया में किसी कार्यकर्ता के परिवार में हुई मृत्यु के चलते उनके घर शोक जताने पहुंचे थे।

लौटते वक्त वे चांदपोल स्थित पीछोला स्वरूप सागर लिंक पुलिया पर गंदगी से बदहाल झीलों की दशा देख हैरान रह गए। पास ही में बने घाट के कोने पर डिविडिंग मशीन काई एवं कचरा निकाल रही थी। मशीन को देख मीणा ने कहा कि यह मशीन एनएलसीपी कोटे से 5 करोड़ रुपए की लागत से झीलों की सफाई के लिए खरीदी गई थी और एनएलसीपी कोटे से कांग्रेस के पूर्व मंत्री नमो नारायण मीणा के प्रयासों के बाद केंद्र सरकार ने झीलों के विकास लिए 125 करोड़ रुपए का बजट भी जारी किया गया था। लेकिन नगर निगम और नगर विकास प्रन्यास ने झीलों का स्वरूप बिगाड़ दिया है।

खबरें और भी हैं...