लग्जरी कारों से गुजरात भेजी जा रही शराब:उदयपुर में तीन कारों से हरियाणा निर्मित 10 लाख रूपए की शराब पकड़ी, 3 तस्कर गिरफ्तार

उदयपुर6 महीने पहले
पुलिस की पकड़ में आरोपी तस्कर।

उदयपुर पुलिस की जिला स्पेशल टीम ने कार्रवाई करते हुए शराब से भरी तीनों कारों को पकड़ा हैं। तीनों कारें लग्जरी है, जिनमें हरियाणा से गुजरात अवैध शराब भरकर ले जाई जा रही थी। मंगलवार देर रात सुखेर पुलिस के साथ टीम ने अंबेरी इलाके में नाकाबंदी कर यह कार्रवाई की। तस्करों ने इस दौरान भागने की भी पूरी कोशिश की, मगर पुलिस ने सफल नहीं होने दिया। तीनों कारों से अलग-अलग 8 ब्रांड की 10 लाख रूपए कीमत की शराब बरामद हुई है। तीनों कारें एक के पीछे एक चल रही थी।

डीएसटी ( जिला विशेष टीम) प्रभारी दिलीप सिंह झाला ने बताया कि मुखबीर की सूचना पर टीम ने अंबेरी इलाके में नाकाबंदी की। इस दौरान नाथद्वारा की ओर से एक कार आई। टीम ने रूकवाने की कोशिश की तो कार में सवार तस्कर में स्थिति भांपते हुए गाड़ी को पहले ही रोककर रिवर्स लेकर भागने की कोशिश की। टीम ने भी तत्परता दिखाते हुए कार को घेरकर पकड़ लिया। तीनों कार एक के पीछे एक चल रही थी। पुलिस ने कारों को चला रहे तीनों तस्करों को गिरफ्तार किया है। इन कारों में सीट के नीचे और डिक्की में शराब की पेटियां भरी थी। टीम ने आरोपियों को सुखेर पुलिस के हवाले कर दिया है।

पूछताछ में सामने आया है कि अवैध शराब की यह खेप हरियाणा से गुजरात के अंबाजी इलाके में भेजी जा रही थी। इसमें अलग-अलग 8 ब्रांड की शराब थी। जो तीन अलग-अलग कारों में भरकर ले जाई जा रही थी। यह कोई सामान्य नहीं होकर लग्जरी कारें थी, जिनकी कीमत करीब 20-20 लाख रूपए है। पुलिस इन कारों के मालिक के बारे में जानकारी जुटा रही है। महंगी कारें होने से एकाएक पुलिस को भी शराब तस्करी के लिए इन पर डाउट नहीं होता था।

इनको किया गिरफ्तार!
अजय कुमार पिता शिलकराम निवासी रोहना, खरगोदा, प्रदीप पिता राजपाल निवासी रोहना, खरगोदा और अरुण पिता रामकुमार निवासी खरगोदा, खरगोदा ज़िला सोनीपत को गिरफ्तार किया है।