अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी सप्ताह:बिजली कनेक्शन, जमीन नामांतरण-रजिस्ट्री-पट्टे के लिए मांगी जाती है सबसे ज्यादा रिश्वत : ग्रामीण

उदयपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • एसीबी ने गोद ली पंचायत भटेवर और लखावली में की बैठक

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) उदयपुर यूनिट ने सोमवार को अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी सप्ताह के तहत भटेवर और लखावली में ग्रामीणों के साथ बैठक की। गांव के लोगों और जनप्रतिनिधियों ने शपथ ली कि न रिश्वत देंगे और न किसी को देने देंगे। अधिकारियों ने जब लोगों से पूछा कि आपसे कहां-कहां रिश्वत मांगी जाती है तो वे बोले- विद्युत कनेक्शन, जमीन नामांतरण, जमीन रजिस्ट्री, जमीन का पट्टा लेने सहित अन्य सरकारी महकमों में रिश्वत देनी पड़ती है।

एसीबी ने टोल फ्री नंबर 1064 की जानकारी दी, कहा-शिकायत करें

एसीबी इंस्पेक्टर हरीश चंद्र ने बताया कि दोनों ग्राम पंचायत में 100 से ज्यादा लोग बैठक में पहुंचे। वहां उन्हें एसीबी के टोल फ्री नंबर 1064 के बारे में जानकारी दी गई। बता दें कि जयपुर मुख्यालय से भ्रष्टाचार मुक्त सजग अभियान के तहत सामाजिक जिम्मेदारी के रूप में राज्य की प्रत्येक एसीबी यूनिट से एक ग्राम पंचायत काे गाेद लेने के निर्देश थे। उदयपुर यूनिट ने भटेवर और लखावली पंचायत को गोद लिया था। इनमें सभी ग्रामवासियों को भ्रष्टाचार के विरूद्ध जागरूक कर, जीवन में कभी भी रिश्वत नहीं देने का संकल्प दिलाना होगा।

खबरें और भी हैं...