• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Udaipur
  • In Mavli, Vritradhikari And Prahardhikari Were Arrested Red handed For A Bribe Of 25 Thousand, Had Come To Take A Monthly Prisoner Of Two Months On A Liquor Contract.

उदयपुर में आबकारी विभाग के दो अफसर ट्रैप किए:CI और PO 25 हजार की रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार, शराब ठेके पर दो माह की मासिक बंदी लेने पहुंचे थे

उदयपुरएक वर्ष पहले
एसीबी टीम के साथ आबकारी वृत निरीक्षक गोपीलाल सालवी और प्रहराधिकारी महेन्द्र जाट।

उदयपुर एसीबी की स्पेशल यूनिट ने बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए आबकारी विभाग के दो अधिकारियों को ट्रैप किया। टीम ने मावली में आबकारी थाने के सीआई (सर्कल इंस्पेक्टर) और पीओ (पेट्रोलिंग ऑफिसर) को 25 हजार की रिश्वत के साथ रंगे हाथ गिरफ्तार किया। दोनों अधिकारी एक शराब ठेके से मासिक बंदी के रूप में यह रिश्वत ले रहे थे।

एएसपी उमेश ओझा ने बताया​ कि परिवादी की रिपोर्ट पर सत्यापन के बाद ब्यूरो की टीम ने गुरुवार को यह कार्रवाई की। मावली के एक शराब की दुकान पर आबकारी वृत निरीक्षक (CI ) गोपीलाल सोलंकी और प्रहराधिकारी (PO) महेन्द्र जाट मासिक लेने पहुंचे थे। इसी दौरान शराब ठेका संचालक से बंदी लेते टीम ने उन्हें रंगे हाथ पकड़ लिया।

ओझा ने बताया कि आरोपी दोनों अधिकारी मावली आबकारी थाने पर पोस्टेड है। ये शराब ठेके के संचालक से प्रति माह 12 हजार 500 रुपए ले रहे थे। दो महीनों की मासिक बंदी इस बार वे साथ में ले रहे थे। गोपीलाल साेलंकी जालौर के बागरा गांव के रहने वाले है। वही महेन्द्र कुमार जाट झुंझुनू जिले के खेतड़ी क्षेत्र के सेजरा के रहने वाला है। जाट 4 सालों बाद रिटायर्ड होने वाले थे।

कार्रवाई के बाद टीम ट्रैप हुए दोनों अधिकारियों से पूछताछ कर ज्यादा जानकारी जुटाने में लगी हुई है। टीम आरोपियों को लेकर उनके घर पर भी जाएगी, जहां तलाशी ली जा सकती है।

खबरें और भी हैं...