• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Udaipur
  • In Udaipur, A Passer by Returning Home Late At Night Cut His Neck From A Chinese Manjhi, A Big Accident Was Averted By Understanding

चाइनीज मांझे से कटी गर्दन:उदयपुर में देर रात घर से लौट रहा था युवक, तार पर लट रहा चाइनीज मांझा गले में अटका, खून से लथपथ हॉस्पिटल पहुंचा

उदयपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
चाइनीज मांझे से कटी युवक की गर्दन - Dainik Bhaskar
चाइनीज मांझे से कटी युवक की गर्दन

उदयपुर में चाइनीज मांझे की रोक के बावजूद भी लापरवाह लोग अपने चंद मिनटो के मनोरंजन के लिए इसे धड़ल्ले से काम में ले रहे हैं। चाइनीज मांझे के बीच सड़क पर लटकने के कारण देर रात अपने काम से लौटते समय बड़गांव निवासी ऋषि प्रजापत की गर्दन कट गई। ऋषि प्रजापत ने बताया कि वे देर रात घर लौट रहे थे। बड़गांव खेड़ा माता चौक के बाहर जैसे ही चाइनीज मांझा उनकी गर्दन में फंसा, तो वे एकाएक हक्का बक्का रह गए। लेकिन संभलते हुए तुरन्त अपनी बाइक को रोक लिया।

जैसे-जैसे उन्होंने गर्दन में फंसे मांजे को दूर किया। तो देखा कि उनकी गर्दन से खून बह रहा था। रात में अंधेरा ज्यादा होने की वजह से वे घबराकर अपने घर चले गए। वहां जाकर देखा तो उनकी गर्दन बुरी तरह कट गई थी। हालांकि गनीमत रही कि पूरे हादसे में ऋषि प्रजापत की सूझबूझ से बड़ा हादसा होने से टल गया। नहीं तो उनकी जान भी जा सकती थी।

उदयपुर में यह कोई पहला हादसा नहीं होगा इससे पूर्व भी कई राहगीरों ने चाइनीज मांझे के कहर के कारण अपनी जान गवाई है। अब प्रशासन को इन जानलेवा मांझे पर पूरी तरह रोक लगाने के लिए कड़े कदम उठाने की सख्त जरूरत है। बीते साल खेरवाड़ा में मांझे से ही युवक की जान चली गई थी, तो वहीं शहर में भी एक बच्ची घायल हो गई थी। बरहाल, जिला प्रशासन को जानलेवा मांझे पर पूरी तरह रोक लगाने के लिए कड़े कदम उठाने की सख्त जरूरत है।

खबरें और भी हैं...