पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पानरवा वन रेंज:अमेजन जैसा जंगल, भालुओं ने बना ली बस्ती

उदयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 1.5 किमी लंबा और करीब 200 फुट गहरा है दर्रा
  • चार सदी पहले बिजली गिरने से यह दो फाड़ हो गया था

शहर से 140 किमी दूर अरावली की वादियों में फुलवारी की नाल अभयारण्य की पानरवा वन रेंज। यहीं गुजरात बॉर्डर से सटे डैया वन नाका क्षेत्र के माल गांव से दाे किमी दूर है 1.5 किमी लंबा और करीब 200 फुट गहरा दर्रा।

आदिवासियों के लिए बीज मगरा है, क्योंकि वे मानते हैं कि चार सदी पहले बिजली गिरने से यह दो फाड़ हो गया। बाकी के लिए रीछ पहाड़ी, क्योंकि यहां दो दर्जन से ज्यादा भालू बसते हैं। मानसून में हरियाली बढ़ने पर यह इलाका अमेजन के घने जंगलों जैसा हो जाता है। पतझड़ में यहां भालू भी आसानी से दिखते हैं।

गांव के मुखिया : आसमानी बिजली गिरी और 2 हिस्सों में बंट गया मगरा

माल गांव के मुखिया नाथूलाल मीणा बताते हैं कि हमारी 6 पीढ़ियां यहीं पनपी। परदादा से सुनते आए हैं कि बरसों पहले रात में जबर्दस्त आसमानी बिजली गिरने से पहाड़ टूटा और दो हिस्सों में बंट गया।

पहाड़ी के दोनों हिस्से कहीं 50 ताे कहीं 200 मीटर दूर हो गए। इन्हीं दरारों में मधुमक्खियाें ने छत्ते बना लिए, जिसके लिए यहां पास के राज्य गुजरात के जंगल से भालुओं का आना शुरू हो गया। तबसे इसे रीछ पहाड़ी भी कहा जाने लगा।

भूगोलविद् : जमीन में हलचल से धंसते और टूटते रहते हैं पहाड़

सुखाड़िया विवि में भूगाेल के पूर्व विभागाध्यक्ष प्रो. पीआर व्यास बताते है - आंतरिक हलचल से पहाड़ी इलाकों में जमीन धंस जाती है। यह प्रक्रिया सदियों तक चल सकती है। पानरवा क्षेत्र में यह घाटी अांतरिक हलचल से बनी होगी। चट्टानाें में कुछ हिस्से भुरभुरे भी होते हैं, जो जब-तब दरकने लगते हैं। चट्टानाें का टूटना और उनमें बदलाव भूगर्भीय प्रक्रिया है। स्थानीय लोगों की मान्यताएं अलग हो सकती है, लेकिन बिजली गिरने से ऐसी दरार संभव नहीं है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- रचनात्मक तथा धार्मिक क्रियाकलापों के प्रति रुझान रहेगा। किसी मित्र की मुसीबत के समय में आप उसका सहयोग करेंगे, जिससे आपको आत्मिक खुशी प्राप्त होगी। चुनौतियों को स्वीकार करना आपके लिए उन्नति के...

और पढ़ें