1 पोस्ट से शुरू हुआ विवाद, 20 दिन की साजिश:कन्हैयालाल की हत्या प्री-प्लान्ड थी, पढ़िए 8 से 28 जून तक का पूरा घटनाक्रम

उदयपुर9 महीने पहले

उदयपुर में कन्हैयालाल की हत्या एक आतंकी साजिश थी। रियाज जब्बार ​​​​​​और गौस मोहम्मद दोनों का पाकिस्तान में कनेक्शन था। राजस्थान में दहशत फैलाने के लिए कन्हैयालाल को मोहरा बनाया गया, लेकिन यह सब कुछ प्री-प्लान्ड था। 20 दिनों में कन्हैयालाल की हत्या की साजिश रची गई थी।

इस विवाद की शुरुआत 8 जून को पहली पोस्ट डालने से शुरू हो गई थी। 20 दिनों में मामला पुलिस तक भी पहुंचा और कन्हैयालाल को जेल भी हुई, लेकिन अचानक 20वें दिन हत्या के बाद पूरा घटनाक्रम बदल गया। जांच की तो सामने आया कि यह आतंकी साजिश थी। मकसद था लोगों में डर और दहशत फैलाना।

इधर, इस हत्याकांड के बाद नए खुलासे हो रहे हैं। जांच में सामने आया कि कन्हैयालाल की हत्या से पहले उसे कई बार धमकाया गया था। धमकी दी गई कि जिंदा गाड़ देंगे। इसके बाद वह डर गया, लेकिन जैसे ही दुकान खोली कन्हैयालाल की हत्या कर दी गई।

पढ़िए 8 से 28 जून का पूरा घटनाक्रम...

ये भी पढ़ें-