पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना संक्रमण:हल्की एक्सरसाइज, संतुलित आहार-अच्छी नींद बचाएगी पोस्ट कोविड की तकलीफों से

उदयपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • डाॅक्टर बोले-सेल्फ मॉनिटरिंग करते रहें, बुखार-सांस में तकलीफ पर नजर रखना भी जरूरी

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ ही रिकवरी भी बढ़ी है। हॉस्पिटल से डिस्चार्ज होने के बाद पोस्ट-कोविड में कई परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। घर पर रहने के दौरान काफी ध्यान रखने की जरूरत है। चिकित्सकाें का कहना है कि संक्रमण से उबरने के बाद भी ब्लड प्रशर और शुगर जैसी स्थितियों पर निगरानी रखनी चाहिए। दोबारा संक्रमण से बचने के लिए जरूरी है कि बुखार, सांस लेने में तकलीफ होना, खांसी बढ़ने जैसे लक्षणाें काे अलार्म की तरह लें और तत्काल चिकित्सकीय परामर्श ले।

एक्सरसाइज, संतुलित आहार और तनाव से दूरी पोस्ट कोविड की तकलीफों से छुटकारा के मूलमंत्र है। सुपर स्पेशियलिटी विंग कोविड हॉस्पिटल के काे-ऑर्डिनेटर डॉ. राजवीर सिंह ने बताया कि कोरोना मरीजों के डिस्चार्ज होने के बाद पोस्ट कोविड में भी खासा ध्यान रखने की जरूरत होती है। इस दौरान सबसे खास बात यह है कि खुद को हाइड्रेट रखें। नींबू पानी-जूस आदि पेय लेते रहें। फेफड़े में संक्रमण की आशंका दूर भगाने के लिए भाप जरूर लें। भरपूर नींद लें और तनाव से दूर रहे। ताकि मानसिक तौर पर भी स्वस्थ रहे। धूम्रपान-शराब या तंबाकू का सेवन बिल्कुल नहीं करे।

इसके अलावा चिकित्सक की सलाह है कि हॉस्पिटल से घर आने के कुछ दिन बाद तक खुद की मॉनिटरिंग जरूरी है। शरीर का तापमान, ब्लड प्रेशर और शुगर नियमित तौर पर जांचने से पोस्ट कोविड में किसी भी प्रकार की तकलीफ से बचा जा सके।

इस दौरान जरूरी है कि ऑक्सीमीटर से ऑक्सीजन सैचुरेशन लेवल और पल्स रेट भी मापते रहें। रिकवर होने के बाद भी विटामिन सी, जिंक, मल्टीविटामिन टेबलेट आदि लेनी चाहिए। इस दौरान लगातार चिकित्सकीय परामर्श जरूरी है।

खबरें और भी हैं...