पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Udaipur
  • Major Portion Of Gulabbagh, The Largest Oxygen Hub In The City, Fell From The Collapse, 10 Fire Brigades Extinguished In Three And A Half Hours

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आपदा:शहर के सबसे बड़े ऑक्सीजन हब गुलाबबाग का बड़ा हिस्सा लपटाें से गिरा, 10 फायर ब्रिगेड साढ़े तीन घंटे में बुझा पाई आग

उदयपुर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • गुलाबबाग में सूखे पत्तों में लगी अाग को बुझाने में फायर ब्रिगेड टीम की भी फूल गई सांसें

शहर के सबसे बड़े ऑक्सीजन हब गुलाबबाग के कमलतलाई के पास बुधवार देर शाम आग लग गई। सूखे पत्तों के ढेर में लगी आग हवा के साथ जब तेजी से फैलने लगी ताे इसकाे बुझाने में लगी नगर निगम की फायर ब्रिगेड की टीमाें की भी एक बारगी सांसें फूल गई।

बुधवार को समाेरबाग राेड छाेर पर कमलतलाई के पास शाम करीब साढ़े बजे आग लगनी शुरू हुई। समाेरबाग राेड पर खड़े रहने वाले ऑटाे चालक इरफान ने शाम 6.50 बजे पूर्व पार्षद राशिद खान काे आग की जानकारी दी ताे राशिद ने तत्काल निगम के फायर स्टेशन काे सूचना दी।

उसके बाद फायर ब्रिगेड माैके पर पहुंची, लेकिन हवा के साथ तेजी से फैलती आग बेकाबू नजर आई ताे एक के बाद एक 10 फायर ब्रिगेड काे आग बुझाने में लगाया गया। इसमें फायर ब्रिगेड टीम की भी सांसें फूल गई। फायर ऑफिसर राकेश व्यास के नेतृत्व में टीमेें रात दस बजे बाद तक भी मशक्कत करती रहीं।

जेसीबी मंगवाकर पत्ताें के ढेर काे ऊपर नीचे करने का काम शुरू किया गया, ताकी रात में हवा से फिर आग नहीं चेत जाए। डिप्टी मेयर पारस सिंघवी, पूर्व सभापति रवींद्र श्रीमाली, उद्यान समिति अध्यक्ष महेश त्रिवेदी, आपदा प्रबंधन समिति के अध्यक्ष महेंद्र भगाेरा भी आग की सूचना पर गुलाबबाग पहुंचे।

आनन-फानन में गुलाबबाग की बावड़ी में माेटर लगाई
गुलाबबाग में लगी आग से निगम के आपदा प्रबंधन की हकीकत भी सामने आ गई। गुलाबबाग मेें इतनी बावड़ियां और पर्याप्त पानी हाेने के बावजूद हाईड्रेंट सिस्टम की सुविधा नहीं हाेेने से फायर ब्रिगेड काे पानी भरने के लिए सूरजपाेल क्षेत्र में चंपालाल धर्मशाला के आगे लगे हाईड्रेंट और शिक्षा भवन-राड़ाजी चाैराहा राेड पर जलदाय विभाग के पंप हाउस पर लगे हाईड्रेंट पर जाना पड़ा। इससे आने-जाने में काफी समय बर्बाद हुआ। बाद में आनन-फानन में गुलाबबाग में ही एक बावड़ी में माेटर लगाकर फायर ब्रिगेड में पानी भरने की व्यवस्था की गई।

66.33 एकड़ मेें फैला है गुलाबबाग
बीच शहर में ऑक्सीजन हब के रूप में 66.33 एकड़ मेें फैले गुलाबबाग का मालिकाना हक इसी साल 11 जनवरी काे पीडब्ल्यूडी से नगर निगम काे मिला था। हालांकि 15 मार्च 2017 से नगर परिषद (निगम) के तत्कालीन सभापति रवींद्र श्रीमाली के कार्यकाल में निगम और पीडब्ल्यूडी के बीच हुए करार के तहत गुलाबबाग का रख-रखाव निगम ही कर रहा था।

इतना बड़ा गुलाबबाग है और पेड़ाें से इतने पत्ते गिरते हैं कि पूरी तरह से हटाना संभव नहीं हैं। उनकाे एक जगह एकत्र कर खाद बनाते हैं। पत्ताें में छाेटी माेटी आग ताे हर साल लगती है, इस बार आग ने बड़ा रूप ले लिया। पेड़ाेंं काे ज्यादा नुकसान नहीं हुआ है, फिर भी हम ज्यादा सावधानी बरतेंगे। हाईड्रेंट काे लेकर कमियां सामने आई हैं, उसकाे भी सुधारेेंगे। - पारस सिंघवी, डिप्टी मेयर

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- ग्रह स्थिति अनुकूल है। मित्रों का साथ और सहयोग आपकी हिम्मत और हौसले को और अधिक बढ़ाएगा। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी काबू पाने में सक्षम रहेंगे। बातचीत के माध्यम से आप अपना काम भी निकलवा लेंगे। ...

    और पढ़ें