पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

मानसून:मानसी वाकल बांध हुआ लबालब, आज खुल सकते हैं गेट, छलकने से 10 सेमी दूर जिले की सबसे बड़ी झील जयसमंद

उदयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बीती रात शहर में 11, ओगणा में 56 मिमी बारिश, उदयसागर से वल्लभनगर मेंं प्रवाह जारी

पानी की आवक लगातार बनी रहने से झाड़ाेल क्षेत्र का मानसी वाकल बांध लबालब हाे गया है। मंगलवार को इसके गेट कभी भी खोले जा सकते हैं। जिले का सबसे बड़ी झील जयसमंद भी छलकने काे आतुर है, इसमें 10 सेमी पानी की ही और जरूरत है। इधर वल्लभनगर बांध करीब दाे फीट ही खाली रह गया है। इसके छलकते ही मावली क्षेत्र के बड़गांव बांध में आवक शुरू हाे सकेगी। आकाेदड़ा और मादड़ी बांध के ओवरफ्लाे हाेेने से पिछले कई दिनाें से पानी की आवक

बनी रहने से मानसी वाकल बांध लबालब हाे गया है। जलदाय विभाग मंगलवार सुबह इसके गेट खोलने की तैयारी कर ली है। गेट को दो या तीन इंच ही खोला जाएगा, ताकि पानी बहके गुजरात नहीं पहुंचे और इस क्षेत्र में नदी का पेटा तर हो जाए। हालांकि अब कैचमेंट में तेज बारिश होने पर बांध के गेट ज्यादा खोलने की स्थिति बनेगी तब यह पानी गुजरात पहुंचना तय है।

जयसमंद 8.38 मीटर के मुकाबले 10 सेंटीमीटर ही खाली रह गया है। बीती रात इसमें 8 सेंटीमीटर पानी की अावक हुई है। 19 फीट 5 इंच भराव स्तर वाले वल्लभनगर बांध का गेज साेमवार शाम 5 बजे 17 फीट 8 इंच हाे गया। यह बांध अब करीब दाे फीट खाली रह गया है इसमें उदयसागर से आवक बनी हुई है। कैचमेंट में तेज बारिश से

मोरवानिया नदी से आवक बढ़ने पर बड़ी तालाब का गेज 32 फीट के मुकाबले 29 फीट 4 इंच हाे गया है। मदार के दाेनाें तालाब पर चादर चलने का क्रम बना हुआ है। इससे फतहसागर में आवक बनी हुई है। बीती रात शहर में 11, जिले के बावलवाड़ा में 52, देवास 29, खेरवाड़ा 45,ओगणा 56, बांसवाड़ा के गढ़ी में 55, डूंगरपुर के सागवाड़ा में 52 अाैर प्रतापगढ़ के पीपलखूंट में 48 मिलीमीटर बारिश हुई।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज किसी समाज सेवी संस्था अथवा किसी प्रिय मित्र की सहायता में समय व्यतीत होगा। धार्मिक तथा आध्यात्मिक कामों में भी आपकी रुचि रहेगी। युवा वर्ग अपनी मेहनत के अनुरूप शुभ परिणाम हासिल करेंगे। तथा ...

और पढ़ें