पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

समय से पहले राजस्थान पहुंचा मानसून:उदयपुर के रास्ते मानसून ने प्रदेश में किया प्रवेश, अगले 24 घंटे में प्रदेशभर में होगी राहत की बारिश

उदयपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
उदयपुर में बादलों ने डाला डेरा। - Dainik Bhaskar
उदयपुर में बादलों ने डाला डेरा।

राजस्थान में मानसून निर्धारित वक्त से पहले पहुंच चुका है। जिसके बाद लेकसिटी उदयपुर में मौसम परिवर्तन का दौर शुरू हो गया है। बीती रात हुई बारिश ने जहां उदयपुर के बाशिंदों को गर्मी और उमस से राहत दी। वहीं शनिवार सुबह एक बार फिर शहर के आसमान में बादलों ने डेरा डाल दिया है। मौसम विभाग के अनुसार अगले 48 घंटों में उदयपुर में तेज आंधी के साथ मूसलाधार बारिश गिरने की संभावना बनी हुई है।

24 घंटे में जमकर बरसेगा मानसून

उदयपुर में अमूमन मानसून 20 से 25 जून के बीच प्रवेश करता है। लेकिन इस बार मानसून अपने निर्धारित वक्त से लगभग 7 दिन पहले ही उदयपुर पहुंच गया है। मौसम केंद्र जयपुर के निदेशक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि दक्षिण पश्चिम मानसून ने राजस्थान में प्रवेश कर लिया है। पहले दिन मानसून ने प्रदेश के 5 जिलों को कवर किया है। लेकिन अगले 24 घंटे में मानसून मेवाड़ समेत प्रदेश के कई अन्य जिलों को अपनी जद में ले लेगा। इस दौरान बारिश के साथ तेज आंधी चलने की भी संभावना है।

पहले क्यों आया

मानसून तय तिथि से पहले या बाद में कभी भी आ सकता है। इस बार दक्षिणी पश्चिमी हवाओं ने राज्य में प्रवेश किया है। यह नमी वाली हवाएं हैं। इसी को मानसून का प्रवेश माना जाता है, जिससे बारिश की परिस्थितियां बनती हैं। ये हवाएं धीरे-धीरे अन्य जिलों में बढ़ेंगी। असर क्या रहेगा? मानसून पहले आए या बाद में... फर्क नहीं पड़ता। देखना यह होता है कि 30 सितंबर तक कब-कब और कितने दिन सक्रिय रहा। विभाग सिर्फ 5 दिन आगे तक के मौसम के बारे में बता सकता है। हालांकि इस बार अच्छी बरसात की उम्मीद है।

मौसम विभाग का उत्तर-पश्चिमी भारत में 92 से 108% तक औसत बारिश का अनुमान है। हालांकि प्रदेश में प्री-मानसून अब तक 46% ज्यादा बरस चुका है। शुक्रवार को उदयपुर में 4, देवास में 12, झाड़ाेल में 6, मदार 5, राजसमंद में 24, चिकलवास में 18 और नंदसमंद मेें 1 मिलीमीटर पानी बरसा। उदयपुर में पिछले साल 24 जून काे मानसून पहुंचा था। आठ दाैर में हर बार खंड बारिश हुई, अक्टूबर तक औसत 583.50 मिमी के मुकाबले 728.27 मिमी बारिश हुई थी।

खबरें और भी हैं...