पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ये बेड की बात:जोधपुर को छोड़ सर्वाधिक भर्ती रोगी उदयपुर में, अजमेर-बीकानेर में कोविड सेंटर खाली होने को

उदयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

उदयपुर में पिछले सात दिन से कोरोना मरीज एक अंक में यानी 9 या इससे कम मिल रहे हैं, लेकिन इसके बावजूद ना ताे एक्टिव मरीजों का आंकड़ा कम हाे रहा है और ना ही शहर के विभिन्न कोविड हॉस्पिटलों के बेड खाली हाे पा रहे हैं। प्रदेश के सबसे संक्रमित शहर जोधपुर और जयपुर हैं, लेकिन काेविड अस्पतालों में भर्ती मरीजों की बात करें ताे जोधपुर के बाद उदयपुर का ही नंबर आता है।

जोधपुर में जहां रिजर्व बेड के मुकाबले 10.09% बेड भरे हैं, वहीं उदयपुर में 9.29% मरीज भर्ती हैं। जयपुर की स्थिति उदयपुर से बेहतर है। वहां 4500 रिजर्व बेड के मुकाबले 6.66% बेड ही भरे हैं। यानी उदयपुर से 2.63% मरीज कम भर्ती हैं। ऐसा इसलिए है, क्योंकि शहर में सात दिन पहले तक 40 से 50 मरीज राेज मिल रहे थे।

बीकानेर, अजमेर और काेटा की स्थिति हमसे बहुत बेहतर है। बीकानेर में 0.44%, अजमेर में 1.44% और काेटा में 6.82% बेड ही भरे हैं सीएमएचओ डाॅ. दिनेश खराड़ी के अनुसार अस्पताल में भर्ती मरीजों की रिकवरी में करीब एक महीने का समय लगता है। अगर 15 दिन और संक्रमण दर एक अंक में ही रही ताे एक्टिव और गंभीर मरीजों का आंकड़ा 50 से नीचे पहुंच जाएगा।

लगातार सातवें दिन एक अंक में काेराेना, 9 नए राेगी

शहर में लगातार सातवें दिन गुरुवार को भी कोरोना संक्रमित एक अंक में ही मिले। नौ नए राेगियाें में 5 शहरी और 4 ग्रामीण क्षेत्र के हैं। एक्टिव केस 397 हैं। इनमें से 207 आइसोलेशन में हैं। नए मरीजों में मावली निवासी 28 वर्षीय मेल नर्स संक्रमित मिले हैं। गुरुवार को उदयपुर के किसी भी कोरोना संक्रमित की मौत नहीं हुई है।

आज चौथे दौर में 9 सेंटरों पर 900 हेल्थवर्कर्स को लगाएंगे वैक्सीन

उदयपुर में शुक्रवार को सुबह 9 से शाम 5 बजे तक 9 सेंटर पर चौथे दौर का वैक्सीनेशन होगा। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग ने 900 हेल्थ वर्कर्स को टीका लगाने का टारगेट तय किया है। अब तक रजिस्टर्ड 2637 में से सिर्फ 1984 हेल्थ वर्कर्स ने ही टीका लगवाया है, 653 हेल्थ वर्कर्स वैक्सीन लगवाने पहुंचे ही नहीं।

इनमें सबसे ज्यादा 635 आशा सहयोगिनी, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता शामिल हैं। जबकि 100 फीसदी डॉक्टर वैक्सीन लगवाने पहुंच रहे हैं। सीएमएचओ डॉ. दिनेश खराड़ी ने सभी वैक्सीनेटर्स को सख्त निर्देश जारी किए हैं जब तक सेंटर पर 10 हेल्थ वर्कर नहीं पहुंचे तब तक वायल नहीं खोली जाए। अगर डोज बच भी रही हैं तो दूसरे हेल्थ वर्कर को सेंटर बुलाकर लगाई जाए।

स्पेशियलिटी विंग में 3 सेंटर बनाए, 300 को लगेंगे टीके

​​​​​​​वैक्सीनेशन सेंटर लाभार्थी
1. सुपर स्पेशियलिटी 100
2. सुपर स्पेशियलिटी 100
3. सुपर स्पेशियलिटी 100
4. जिला अस्पताल सलूंबर 100
5. सीएचसी कानाेड़ 100
6. सीएचसी वल्लभनगर 100
7. सीएचसी खेरवाड़ा 100
8. एसआरबी बड़ी 100
9. सीएचसी टीडी 100

तीन दौर में लगातार कम रहा टीके लगने का औसत

टारगेट वैक्सीनेशन प्रतिशत
900 762 84.66
900 635 70.55
1100 587 69.77

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आर्थिक योजनाओं को फलीभूत करने का उचित समय है। पूरे आत्मविश्वास के साथ अपनी क्षमता अनुसार काम करें। भूमि संबंधी खरीद-फरोख्त का काम संपन्न हो सकता है। विद्यार्थियों की करियर संबंधी किसी समस्...

    और पढ़ें