पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कोरोना का कहर:न मौतें थम रहीं, न कोरोना संक्रमण : अब हर शनिवार रात 9 से सोमवार सुबह 5 बजे तक रहेगा लॉकडाउन

उदयपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • उदयपुर में भर्ती भदेसर की महिला मरीज की मौत, दो डॉक्टर, दो रोडवेजकर्मियों, शिक्षक सहित 47 नए केस

आरएनटी मेडिकल कॉलेज के अधीन चित्रकूट नगर में संचालित ईएसआईसी कोविड हॉस्पिटल में भर्ती भदेसर, चित्तौड़गढ़ निवासी 73 वर्षीय संक्रमित महिला की शुक्रवार को मौत हो गई। उदयपुर में 47 नए संक्रमित भी मिले हैं। बढ़ते केस देखते हुए प्रशासन ने शनिवार रात नौ बजे से नगर निगम क्षेत्र में लॉकडाउन के आदेश जारी किए हैं। कलेक्टर चेतन देवड़ा ने बताया कि सोमवार सुबह 5 बजे तक बाजारों सहित हर जगह लॉकडाउन के नियम प्रभावी रहेंगे।

दुकान-बाजार खोलने, आवाजाही आदि पर सख्त पाबंदी रहेगी। अगले आदेश तक यह व्यवस्था हर शनिवार से सोमवार तक लागू रहेगी। सिटी कोविड-19 प्रभारी डॉ. शंकरलाल बामनिया ने बताया कि गीतांजलि मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल के 28 वर्षीय चिकित्सक, ऋषभदेव के सीएचसी के 52 वर्षीय चिकित्सक, वल्लभनगर निवासी 45 वर्षीय अध्यापक के अलावा शहर के आदर्श नगर निवासी 40 और 49 वर्षीय दो रोडवेजकर्मियों में भी कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है।

इन सेवाओं पर लागू नहीं होंगे लॉकडाउन के प्रतिबंध

आदेश में बताया गया है कि मेडिकल स्टोर सहित विभिन्न चिकित्सा सेवाओं से जुड़े सभी लोग, पुलिस, जिला प्रशासन, सरकारी अधिकारी एवं कार्मिक जो सक्रिय फील्ड डयूटी पर हैं, दुग्ध वाहन, रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड, दुकान, डेयरी, राजकीय वाहन आदि पर यह प्रतिबंध लागू नहीं होगा।

बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन एवं एयरपोर्ट पर आने या जाने वाले यात्री टिकट दिखा कर आ-जा सकेंगे। यात्री वाहन, निरंतर उत्पादन के प्रकृति की फैक्ट्रियां, शव यात्रा (निर्धारित संख्या तक), पर्यटकों हेतु होटल एवं उनका स्टाफ, कार्मिक, (इसमें रेस्टोरेंट शामिल नहीं), शादी समारोह (जिला प्रशासन से अनुमति के बाद), हाईवे/बाइपास/मुख्य मार्ग से गुजरने वाले वाहन (निजी/व्यवसायिक/वाणिज्यिक) पर प्रतिबंध नहीं रहेगा।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय की गति आपके पक्ष में रहेगी। सामाजिक दायरा बढ़ेगा। पिछले कुछ समय से चल रही किसी समस्या का समाधान मिलने से राहत मिलेगी। कोई बड़ा निवेश करने के लिए समय उत्तम है। नेगेटिव- परंतु दोपहर बाद परिस...

और पढ़ें