कन्हैयालाल हत्याकांड में NIA ने गौस के साथी को पकड़ा:PFI और दावत-ए-इस्लाम से जुड़ा था, हत्याकांड में भूमिका की हो रही जांच

उदयपुर6 महीने पहले
प्रतापगढ़ के पारसोला का रहने वाला मुस्लिम मोहम्मद कन्हैयालाल हत्याकांड के मुख्य आरोपी गौस से संपर्क में था। मुस्लिम मोहम्मद भी कई कट्‌टरपंथी संगठनों से जुड़ा हुआ है।

उदयपुर में कन्हैयालाल को मारने वाले गौस मोहम्मद का एक और साथी NIA के हत्थे चढ़ा है। यह युवक कई कट्‌टरपंथी संगठनों से जुड़ा हुआ था और गौस से पिछले 9 सालों से संपर्क में था।

कन्हैयालाल हत्याकांड की जांच के दौरान NIA टीम ने सोमवार को प्रतापगढ़ के पारसोला पहुंचकर मुस्लिम मोहम्मद को नोटिस दिया। मंगलवार को मुस्लिम मोहम्मद NIA के सामने पेश हुआ। इसके बाद टीम उसे हिरासत में लेकर जयपुर के लिए रवाना हो गई।

जानकारी के अनुसार, पिछले दिनों गौस मोहम्मद की कॉल डिटेल्स और बयानों में मुस्लिम मोहम्मद का नाम सामने आया था। गौस की अक्सर मुस्लिम से बातचीत होती थी।

कई संगठनों से मुस्लिम मोहम्मद के कनेक्शन की जांच कर रही टीम
NIA की टीम अब पूछताछ कर कई संगठनों से मुस्लिम मोहम्मद के कनेक्शन की जांच कर रही है। कन्हैयालाल हत्याकांड से पहले भी मुस्लिम और गौस की बातचीत की जानकारी NIA जुटा रही है। NIA यह भी पता कर रही है कि क्या गौस के प्लान में मुस्लिम मोहम्मद की भी भूमिका थी?

पिछले दिनों गौस मोहम्मद की कॉल डिटेल्स और बयानों में मुस्लिम मोहम्मद का नाम सामने आया था। इसके बाद एजेंसियां हरकत में आईं।
पिछले दिनों गौस मोहम्मद की कॉल डिटेल्स और बयानों में मुस्लिम मोहम्मद का नाम सामने आया था। इसके बाद एजेंसियां हरकत में आईं।

यह भी सामने आया है कि मुस्लिम मोहम्मद कई कट्टरपंथी संगठनों से जुड़ा हुआ था। वो समुदाय विशेष द्वारा किए जाने वाले धार्मिक विरोध में बढ़-चढ़कर भाग लेता था। मुस्लिम मोहम्मद उदयपुर के पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI), दावत-ए-इस्लामी समेत कई संगठनों के पदाधिकारियों के संपर्क में था। सोशल मीडिया के जरिए भी वो कई ग्रुप्स में कट्टरपंथी कमेंट किया करता था।

28 जून को हुई थी कन्हैया की बर्बर हत्या
28 जून को उदयपुर में मालदास स्ट्रीट में कपड़े सिलने वाले कन्हैयालाल साहू की निर्मम हत्या कर दी गई थी। कन्हैया ने सोशल मीडिया में नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट किया था। इसी के चलते गौस मोहम्मद और रियाज अत्तारी नाम के दो युवकों ने दुकान में घुसकर कन्हैया के गले पर चाकू से हमला किया।

आरोपियों ने हमले का लाइव वीडियो बनाया था। इसकी जिम्मेदारी लेते हुए वीडियो वायरल भी किए थे। इस हत्याकांड में शामिल रहे मुख्य आरोपी मोहम्मद गौस, रियाज अत्तारी समेत 8 आरोपी गिरफ्तार हुए थे। पूरे देश में तनाव की स्थिति पैदा हो गई थी और राजस्थान में करीब पांच दिन तक इंटरनेट बंद कर दिया गया था।

ये भी पढ़ें..

मोहर्रम पर उदयपुर के ताजिए में आग, हिंदुओं ने बुझाई:जले गुंबद को ढंकने को महिला ने दी साड़ी; यहीं हुआ था कन्हैया हत्याकांड

NIA की उदयपुर में छापेमारी, चार को पकड़ा:कन्हैयालाल हत्याकांड में अफवाह फैलाने वाले टारगेट पर; सोशल मीडिया की हर पोस्ट पर नजर

पाक के 18 नंबरों पर बात करते थे रियाज-गौस मोहम्मद:कन्हैयालाल के हत्यारों के साथ दावत-ए-इस्लामी से 300 लोग कॉन्टैक्ट में थे

कन्हैयालाल हत्याकांड में NIA की छापेमारी:हत्यारों के घर से कई मोबाइल सिम-सेंसिटिव डॉक्यूमेंट मिले; एक और CCTV सामने आया