LIVE राजस्थान में अब पुलिस पर तलवार से हमला:कल जयपुर बंद रहेगा, मर्डर मामले की टेरर एंगल पर जांच करेगी NIA

उदयपुर2 महीने पहलेलेखक: सतीश शर्मा और निखिल शर्मा
भीड़ के हमले में घायल कॉन्स्टेबल संदीप चौधरी बाइक पर बीच में बैठे हुए। उनका अजमेर में इलाज चल रहा है।

राजस्थान के उदयपुर में टेलर कन्हैयालाल के मर्डर पर बवाल के बीच राजसमंद के भीम इलाके में कॉन्स्टेबल पर तलवार से हमला हुआ है। लोग यहां उदयपुर की घटना का विरोध कर रहे थे। पुलिसकर्मी के रोकने पर भीड़ में शामिल एक व्यक्ति ने उसकी गर्दन पर तलवार मार दी।

गंभीर रूप से घायल कॉन्स्टेबल को अजमेर रेफर किया गया है। भीम में ही मंगलवार को दोनों हत्यारे पकड़े गए थे। कॉन्स्टेबल संदीप चौधरी पर हमले के बाद पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच टकराव की स्थिति बन गई।

पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े तो प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पथराव भी कर दिया। एसपी सुधीर चौधरी ने बताया कि उपद्रव कर रहे करीब 40 लोगों को हिरासत में लिया गया है। इधर, पूरे केस का इन्वेस्टिगेशन NIA ने अपने हाथ में ले लिया है।

दोनों आरोपियों के खिलाफ UAPA के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। टेरर एंगल से भी मामले की जांच की जा रही है। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत हालात पर चर्चा के लिए ऑल पार्टी मीटिंग बुलाई, हालांकि इस बैठक में भाजपा का कोई बड़ा नेता शामिल नहीं हुआ। वहीं, इस हत्याकांड के विरोध में जयपुर व्यापारिक और हिंदू संगठनों ने शहर बंद की अपील की है। इस संबंध में बुधवार दोपहर व्यापारियों और हिंदू संगठनों ने बैठक बुलाई थी, जिसमें भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया भी शामिल थे।

पत्नी बोली- हत्यारों को फांसी दो
इधर, मंगलवार को मारे गए कन्हैयालाल का बुधवार दोपहर अंतिम संस्कार कर दिया गया। शहर में कर्फ्यू के बाद उनकी अंतिम यात्रा में भारी भीड़ जुटी। लोगों ने 'हत्यारों को फांसी दो' के नारे लगाए। कन्हैया की हत्या के विरोध में शहर भी बंद रहा। पोस्टमॉर्टम के बाद उनका शव घर ले जाया गया, तो उनकी पत्नी ने रोते हुए कहा कि हत्यारों को फांसी की सजा दी जाए, नहीं तो ये लोग कई लोगों को मारेंगे।

कन्हैया की हत्या कैसे और क्यों हुई?
10 दिन पहले नूपुर शर्मा के समर्थन में सोशल मीडिया पर पोस्ट डालने वाले कन्हैयालाल का तालिबानी तरीके से मर्डर कर दिया गया। गौस और रियाज मंगलवार को दिनदहाड़े उसकी दुकान में घुसे। तलवार से कई वार किए और उसका गला काट दिया। दुकान में ईश्वर समेत दो और कर्मचारी मौजूद थे। यहां क्लिक कर पढ़ें पूरी खबर...

पुलिस ने मंगलवार को दोनों आरोपियों गौस मोहम्मद और रियाज जब्बार को राजसमंद से अरेस्ट किया था। इनके अलावा 3 अन्य लोगों को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इसमें एक कन्हैयालाल की पुलिस में शिकायत करने वाला उसका पड़ोसी नाजिम भी है।

उदयपुर के हत्यारों को पकड़ने का लाइव VIDEO:दोनों बाइक से भाग रहे थे, पुलिस ने 170 किमी पीछा कर दबोचा; लात-घूंसों से पीटा

दोनों आरोपियों को मंगलवार शाम उदयपुर से सटे राजसमंद जिले के भीम इलाके से गिरफ्तार किया गया है।
दोनों आरोपियों को मंगलवार शाम उदयपुर से सटे राजसमंद जिले के भीम इलाके से गिरफ्तार किया गया है।

हत्याकांड से जुड़े अपडेट्स

1. पुलिस ने शहर के 7 इलाकों में एहतियातन कर्फ्यू लगाया है। उधर, राजस्थान में ऐहतियातन 24 घंटे के लिए इंटरनेट बंद कर दिया गया है। एक महीने के लिए धारा 144 लागू की गई है। घटना के विरोध में उदयपुर समेत झालावाड़, डूंगरपुर, राजसमंद समेत कई शहर बंद हैं। अजमेर संभाग के 5 जिलों में अनिश्चितकाल के लिए इंटरनेट बंद किया गया है।

2. गृह मंत्रालय ने इस हत्याकांड की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को सौंप दी। कहा कि किसी भी संगठन और अंतरराष्ट्रीय लिंक की गहन जांच की जाएगी। जांच के लिए 4 सदस्यीय टीम उदयपुर पहुंच गई है।

3. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा- इस मामले की पूरी जांच होगी। उधर, नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया भी कन्हैयालाल के परिजनों से मिलने उदयपुर पहुंचे। उन्होंने कहा कि अपराधियों में अब भय नहीं रहा।

4. बीजेपी सांसद राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने कन्हैया हत्याकांड पर कहा कि ये कोई साधारण घटना नहीं है, ये एक आतंकी घटना है।

देर रात करीब 10 बजे परिवार और प्रशासन में सहमती बनी। इसके बाद बॉडी को मॉर्च्यूरी में लाया गया।
देर रात करीब 10 बजे परिवार और प्रशासन में सहमती बनी। इसके बाद बॉडी को मॉर्च्यूरी में लाया गया।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट- शरीर पर 26 निशान, गले में 8 से 10 बार वार
कन्हैयालाल का बुधवार को ही पोस्टमॉर्टम हुआ। सूत्रों के मुताबिक, शरीर पर घाव के 26 निशान मिले हैं। 8 से 10 घाव केवल गर्दन पर ही थे। पीएम रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि कन्हैया का गला रेत कर अलग किया गया था। दोनों हमलावर कपड़े का नाप देने के बहाने मंगलवार को कन्हैया की दुकान में घुसे थे। इसके बाद उन्होंने बर्बर तरीके से उसकी हत्या कर दी थी।

उदयपुर टेलर मर्डर के गवाह की आंखोंदेखी:2 लोग अंदर आए, बोले- भाई झब्बा-पायजामा सिलोगे, हमें क्या पता था कफन पहनाने आए हैं

कन्हैया ने 14 दिन पहले शिकायत की थी:डर के कारण 6 दिन दुकान नहीं खोली, कहा था- पांच लोग दुकान की रेकी कर रहे हैं

मृतक कन्हैयालाल। पेशे से टेलर कन्हैयालाल ने भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट की थी।
मृतक कन्हैयालाल। पेशे से टेलर कन्हैयालाल ने भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट की थी।
कन्हैयालाल की हत्या के आरोपी रियाज और गौस मोहम्मद (बाएं से दाएं)।
कन्हैयालाल की हत्या के आरोपी रियाज और गौस मोहम्मद (बाएं से दाएं)।

सीएम ने की शांति की अपील
सीएम अशोक गहलोत ने कहा- बहुत चिंता वाली बात है। किसी का मर्डर करना चिंताजनक है। पूरे देश में तनाव का माहौल बन गया है। माहौल ठीक नहीं है। गलियों-मोहल्लों में जहां जिसकी आबादी कम संख्या में है वे ज्यादा चिंतित है। आपस में तनाव और डिस्टेंस हो गया है। पीएम का भी फर्क पड़ता है।

हत्या के बाद उदयपुर में प्रशासन ने बाजार बंद करवा दिए हैं। भीड़ जुटने पर एक्शन लिया जाएगा।
हत्या के बाद उदयपुर में प्रशासन ने बाजार बंद करवा दिए हैं। भीड़ जुटने पर एक्शन लिया जाएगा।

ये भी पढ़ें-

दाढ़ी पर हाथ लगा तो हुई माहौल बिगाड़ने की कोशिश:हत्यारे रियाज ने तैयार किया नेटवर्क; पहले भी उदयपुर में लोगों को भड़काया था

'कन्हैया को काटा, इनको भी काटो':बहिन बोलीं-फांसी की सजा मिले; 24 घंटे बाद भी घर चीखों से गूंज रहा

मंत्री खाचरियावास बोले- कन्हैयालाल के हत्यारों को ठोककर मारनी चाहिए:कहा- दोनों को 4 दिन में फांसी पर लटका दिया जाए

खबरें और भी हैं...