उदयपुर में टीचर ने बच्चे के दांत तोड़े:दूसरे स्टूडेंट से पूछे सवाल का जवाब दिया तो टेबल पर सिर पटका

उदयपुर4 महीने पहले

जालोर में टीचर के थप्पड़ से बच्चे की मौत का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ कि उदयपुर के माउंट लिट्रा जी स्कूल के टीचर ने 14 साल के स्टूडेंट का सिर टेबल पर दे मारा। उसके आगे के 2 दांत टूट गए। उसकी गलती बस इतनी सी थी कि टीचर ने किसी और स्टूडेंट से सवाल पूछा था। जवाब इस स्टूडेंट ने दे दिया। इसी बात पर टीचर गुस्सा गए। शुक्रवार को स्टूडेंट के परिवार वालों ने उदयपुर के हिरणमगरी थाने में टीचर पर रिपोर्ट दर्ज कराई है।

शुक्रवार को हिरणमगरी पुलिस बयान दर्ज करने के बाद स्कूल पहुंची। पुलिस ने स्कूल स्टाफ से लंबी पूछताछ की। पुलिस के अनुसार, भारत पुत्र ओमप्रकाश नंदावत निवासी शांतिनगर हिरणमगरी सेक्टर 3 ने मामला दर्ज करवाया है। रिपोर्ट में लिखा है कि उनका बेटा सम्यक कलड़वास औद्योगिक क्षेत्र में स्थित मउंट लिट्रा जी स्कूल में पढ़ता है। वह 8वीं क्लास का स्टूडेंट है।

परिवार वाले स्टूडेंट को डॉक्टर के पास लेकर गए। वहां दांतों का एक्स-रे किया गया। डॉक्टर ने कहा कि अब नए दांत नहीं आएंगे।
परिवार वाले स्टूडेंट को डॉक्टर के पास लेकर गए। वहां दांतों का एक्स-रे किया गया। डॉक्टर ने कहा कि अब नए दांत नहीं आएंगे।

गुरुवार को लास्ट पीरियड में हिंदी की क्लास चल रही थी। हिंदी टीचर कमलेश वैष्णव ने एक अन्य छात्र से सवाल पूछा। उस सवाल का जवाब सम्यक नंदावत (14) ने दे दिया। इससे कमलेश वैष्णव नाराज हो गए थे। उन्होंने सम्यक का सिर पकड़कर टेबल पर मार दिया। इससे उसके आगे के दो दांत आधे टूट गए। घर वाले सम्यक को डॉक्टर के पास लेकर पहुंचे। डॉक्टर ने कहा- उसके दोनों दांत टूट गए हैं। उसकी जगह अब नए दांत नहीं आएंगे।

जालोर के इंद्र का कमजोर था कान:बीमारी ऐसी कि पर्दे पर जरा सी चोट जानलेवा; 5 साल से था बीमार

सम्यक नंदावत उदयपुर के कलड़वास औद्योगिक क्षेत्र में स्थित मउंट लिट्रा जी स्कूल में पढ़ता है। हिंदी टीचर ने उसका सिर टेबल पर दे मारा, जिससे उसके आगे के 2 दांत टूट गए।
सम्यक नंदावत उदयपुर के कलड़वास औद्योगिक क्षेत्र में स्थित मउंट लिट्रा जी स्कूल में पढ़ता है। हिंदी टीचर ने उसका सिर टेबल पर दे मारा, जिससे उसके आगे के 2 दांत टूट गए।

स्कूल ने बच्चे का इलाज किए बिना घर भेजा
घरवालों का आरोप है कि स्कूल मैनेजमेंट और शिक्षक ने छात्र का उपचार नहीं करवाया। न ही घर पर किसी तरह की सूचना दी गई। सम्यक ने घर पर आकर परिवार वालों को बताया।

स्कूल ने छात्र को इलाज दिए बिना ही घर भेज दिया। बच्चा टूटा दांत लेकर घर पहुंचा।
स्कूल ने छात्र को इलाज दिए बिना ही घर भेज दिया। बच्चा टूटा दांत लेकर घर पहुंचा।

इस मामले पर हिरणमगरी थानाधिकारी रामसुमेर मीणा ने बताया कि परिजनों की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया है। इस मामले से जुडे़ दोनों पक्षों से बात कर रहे हैं। जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकेगा।

जालोर में दलित बच्चे की मौत पर बंटे पक्ष:मां ने कहा- मटका छूने पर पीटा था; गांववाले बोले- गलत बात फैलाई जा रही

चिप्स खाने से नाराज टीचर ने थप्पड़ जड़ा
उदयपुर के वल्लभनगर कस्बे के महात्मा गांधी इंग्लिश मीडियम स्कूल में ऐसा ही मामला सामने आया है। चिप्स खाने से नाराज टीचर ने स्टूडेंट को थप्पड़ जड़ दिए। इससे 14 साल के स्टूडेंट के कान के परदे तक में लीकेज हो गया। 18 अगस्त को परिवार वालों ने वल्लभनगर पहुंचकर मामला दर्ज करवाया।

वल्लभनगर के महात्मा गांधी इंग्लिश मीडियम स्कूल में आठवीं कक्षा के स्टूडेंट के पिता माधव लाल डांगी ने थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई है। आरोप है कि 17 अगस्त को सुबह 9:45 बजे क्लास में बैठ कर चिप्स खाने की बात पर टीचर मुकेश शर्मा नाराज हो गए। उन्होंने स्टूडेंट की पिटाई की। घरवाले उसे वल्लभनगर सैटेलाइट अस्पताल ले गए। वहां से उसे उदयपुर एमबी अस्पताल के लिए रेफर किया गया। उदयपुर में डॉक्टर ने बताया कि कान के परदे में लीकेज है। इलाज के बाद डॉक्टर ने आराम करने की सलाह दी है। वल्लभनगर थानाधिकारी देवेंद्र सिंह ने बताया कि मामला दर्ज जांच कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें-
दलित स्टूडेंट की जमकर पिटाई, नस फटने से मौत:9 साल के बच्चे ने टीचर की मटकी को छुआ था: आरोपी हिरासत में