मानसून जा रहा, झीलें छलक रही:पीछोला-फतहसागर 11-11 फीट, स्वरूपसागर ओवरफ्लो, देवास-1 के गेट बंद फिर भी सीसारमा में ढाई फीट बहाव

उदयपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
स्वरूपसागर ओवरफ्लो - Dainik Bhaskar
स्वरूपसागर ओवरफ्लो
  • बड़ा मदार अभी भी छलक रहा, दो फीट बह रही नहर

मानसून का 12वां और आखिरी दौर शुरू हो चुका है। शहर में मंगलवार को बारिश को ब्रेक लगा, लेकिन 11 फीट क्षमता वाली पीछोला (स्वरूपसागर) झील ओवर फ्लो हो गई। यह पानी उदयसागर जाएगा। 13 फीट क्षमता वाले फतहसागर का जलस्तर भी 11 फीट हो चुका है। इसमें मदार (2 फीट बहाव) नहर से आवक बनी हुई है।

जिले में साेमवार को हुई बारिश को मौसम विशेषज्ञों ने मानसून के 12वें दौर की दस्तक बताया था। हालांकि दूसरे ही दिन बादल छंट गए और धूप खिल गई। दिनभर उमस बरसी। जिले में भी कहीं बारिश नहीं हुई। इस बीच देवास-प्रथम बांध का गेट बंद होने के बावजूद नाई, अलसीगढ़ सहित कैचमेंट में एक दिन पहले हुई बरसात से सीसारमा नदी में 2.6 फीट बहाव बना रहा। नांदेश्वर चैनल भी 1 फीट चल रही है। आवक जारी रहने से सुबह पीछोला झील ओवर फ्लो हो गई।

स्वरूपसागर पाल के दोनों ओर सीढ़ियों से पानी गिरने लगा। यह पानी आयड़ नदी के रास्ते उदयसागर जाता है। हालांकि अभी इसकी रफ्तार इतनी तेज नहीं है। मौसम विभाग ने 2 अक्टूबर तक बारिश के संकेत दिए हैं। ऐसे में कैचमेंट में अच्छी बारिश हुई तो स्वरूपसागर के गेट खोले जा सकते हैं।

आगे : फतहसागर छलकने के लिए मदार के कैचमेंट में तेज बारिश का इंतजार
फतहसागर भराव क्षमता के मुकाबले महज 2 फीट खाली है। लिंक नहर का गेट बंद होने के साथ इसमें स्वरूपसागर से पानी की आवक बंद हो गई है। इसे फिलहाल मदार नहर से पानी मिल रहा है। नहर के चिकलवास हेड पर 2.6 और टेल पर 1.5 फीट बहाव है। यानी आवक की रफ्तार फिलहाल कम है। शहरवासी फतहसागर ओवर फ्लो के लिए बेताब हैं, लेकिन इसके लिए मदार तालाब के कैचमेंट में तेज बारिश का इंतजार करना होगा। हालांकि उम्मीदें कम नहीं हैं, क्योंकि माैसम वैज्ञानिकों ने 2 अक्टूबर तक मानसून का 12वां दाैर रहने और हल्की-मध्यम बारिश के संकेत दिए हैं।

फतहसागर झील अब महज 2 फीट खाली

बांध क्षमता जलस्तर
फतहसागर 13 11
पीछाेला 11 11
अलसीगढ़ 7 34
मादड़ी 21 34
मदार बड़ा 24 24
मदार छाेटा 21 19.7
गाेवर्धन सागर 9 8.8

(स्रोत : जल संसाधन विभाग, क्षमता और जलस्तर फीट में।)

खबरें और भी हैं...