श्राद्ध पक्ष:श्रीजी के दरबार में सांझी का मेला, 100 से ज्यादा चितराम रचे गए

उदयपुर18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

श्राद्ध पक्ष में सांझी उत्सव के तहत बुधवार को शहर स्थित श्रीनाथजी की हवेली में पहली बार अनूठा आयोजन हुआ। बालकृष्ण की लीलाएं दर्शाती पिछवाइयां तो थी ही, इस बार वैष्णवों ने भी हवेली शैली में कागज-कैनवास पर चितराम उकेरे। ऐसी 100 से ज्यादा कृतियां थीं, जिन्हें हवेली के कमल चौक में सजाया गया। दर्शन भी श्रीनाथजी की उस कृति के हुए, जिसे वैष्णव ने तैयार किया था।

मंदिर प्रबंधन ने किया था आग्रह, वैष्णवों ने दिखाया गजब का उत्साह

श्रीनाथजी मंदिर के अधिकारी कैलाश पुरोहित ने बताया कि मंदिर में दर्शन के लिए नियमित आने वाले श्रद्धालुओं से इस आयोजन के लिए कृतियां बनाने का आग्रह किया था। 100 से ज्यादा ने उत्साह दिखाया। हाथी-घोड़े, गाय-दरबार, फूल-पत्तियों समेत लगभग हर कृति हवेली आर्ट से रची गई थी। यह दर्शनार्थियों के लिए भी आकर्षण का केंद्र बनी रही।

खबरें और भी हैं...