पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ज्ञापन:स्कूल के प्रिंसिपल पर दो साल में 71 बच्चों को जबरन टीसी देने का आरोप

उदयपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

झाड़ोल के राउमावि गोराणा के प्रिंसिपल पर जबरन टीसी देने का आरोप लगा है। क्षेत्र के दो दर्जन से अधिक छात्र-छात्राएं अपने परिजनों के साथ बुधवार को उदयपुर पहुंचे। वहां मानवाधिकार कार्यकर्ता गौरव नागदा को साथ लेकर जिला कलेक्टर चेतन देवड़ा को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन की प्रति संयुक्त शिक्षा निदेशक उदयपुर को भी कार्यालय जाकर दी गई। ज्ञापन में राउमावि गोराणा के प्रिंसिपल पर आरोप लगाया कि विगत दो सत्र के कोविड काल में उन्होंने करीब 70 बच्चों को जबरन टीसी(स्थानांतरण पत्र) दे दी।

जबकि ये छात्र-छात्राएं इसी विद्यालय में आगे की पढ़ाई करने के इच्छुक है। आरोप है कि प्रिंसिपल स्कूल का शत-प्रतिशत परीक्षा परिणाम रखना चाहते है। इसी वजह पढ़ाई में कमजोर जनजाति वर्ग के विद्यार्थियों को ही टीसी थमाई है। ज्ञापन के अनुसार सत्र 2019-20 में कक्षा 10 के 9 छात्र व 13 छात्राओं एवं कक्षा 9 के 22 छात्र व 10 छात्राओं को टीसी दी गई। इसी प्रकार सत्र 2020-21 में कक्षा 10 के 2 छात्र व 7 छात्राओं एवं कक्षा 9 के 4-4 छात्र-छात्राओं को प्रिंसिपल ने जबरन टीसी दे दी है। ज्ञापन की प्रति माध्यमिक निदेशक बीकानेर,जनजाति आयुक्त उदयपुर को भेजी गई।

खबरें और भी हैं...