स्वायत्त शासन सचिव ने भास्कर की खबर पर लिया संज्ञान:सचिव ने पूछा-उदयपुर में हाइड्रेंट क्यों बंद तो दौड़े निगम इंजीनियर, एक चालू कराया

उदयपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

नगर निगम के पास फायर ब्रिगेड में पानी भरने के लिए फायर हाइड्रेंट पर्याप्त नहीं होने की हलचल बुधवार काे जयपुर तक जा पहुंची। स्वायत्त शासन सचिव भवानी सिंह देथा ने मामले की गंभीरता काे देखते हुए निगम आयुक्त हिम्मतसिंह बारहठ से फाेन पर संपर्क कर पूछा है कि उदयपुर में फायर हाइड्रेंट बंद क्यों पड़े हैं? समय रहते व्यवस्था सुधारने के निर्देश भी दिए। बारहठ ने तत्काल संबंधित अधिकारियों के साथ मामले में चर्चा की। उसके ठीक बाद आनन-फानन में निगम की टीम ने विभिन्न क्षेत्रों का दाैरा हाइड्रेंट की हकीकत देखी।

भास्कर की खबर के बाद जयपुर स्तर पर हलचल होने पर आयुक्त बारहठ ने निगम के मुख्य अग्नि शमन अधिकारी राकेश व्यास, एसई मुकेश पुजारी, कार्यवाहक एक्सईएन हरीश त्रिवेदी काे बुलाकर चर्चा की। निर्देश दिए कि सबसे पहले वे हाइड्रेंट चालू किए जाएं, जाे छाेटे-माेटे कारण से बंद पड़े हैं। इनके अलावा ऐसे काैन-काैन से स्थान हैं, जहां जरूरत जितना पानी उपलब्ध है और आसानी से फायर ब्रिगेड जा सकती है, वहां भी हाइड्रेंट स्थापित किए जाएं। जिन बड़े पार्कों या सामुदायिक भवनों में ट्यूबवेल हैं, वहां भी यह काम हाे सकता है।

चर्चा के बाद एक्सईएन त्रिवेदी और निगम की टीम ने विभिन्न क्षेत्रों में हाइड्रेंट की स्थिति देखी। बता दें, भास्कर ने “निगम के पास 14 फायर ब्रिगेड, लेकिन पानी भरने के लिए महज 2 फायर हाइड्रेंट’ शीर्षक से बुधवार काे समाचार प्रकाशित किया था। उसमें हाल ही आहाड़ सभ्यता के टीलों और मादड़ी में प्लास्टिक कबाड़ गोदाम में लगी बड़ी अाग के बाद पानी के लिए फायर ब्रिगेड की परेशानी बताई थी।
सुखाड़िया सर्कल सहित कई जगह हाइड्रेंट लगाए जाएंगे

  • ताेरण बावड़ी के पास हाइड्रेंट की माेटर खराब पड़ी है।
  • मीरा कला मंदिर स्थित फायर स्टेशन पर पानी का प्रेशर इतना कम है कि फायर ब्रिगेड भरने में काफी समय लग रहा।
  • गाेवर्धन विलास में डाइट ऑफिस के बाहर हाइड्रेंट का पाइप लाेगाें ने ताेड़ दिया है।
  • गाेवर्धन सागर के पास स्वर्ण जयंती पार्क के बाहर हाइड्रेंट काे हाथोंहाथ चालू किया गया।
  • गाेवर्धन विलास पुरानी आबादी में गोवर्धन कुंड पर लगे हाइड्रेंट काे थाेड़ा व्यवस्थित करने की जरूरत है।
  • सुखाड़िया सर्कल के पास पंप हाउस के यहां हाइड्रेंट टूटा है। इसके बजाय अब सुखाड़िया सर्कल पर ही निगम की नर्सरी के पास हाइड्रेंट लगाएंगे।
  • प्रतापनगर सी क्लास काॅलाेनी में लगे ट्यूबवेल से पाइप लाइन जवाहर पार्क में आ रही है। पार्क के बाहर हाइड्रेंट स्थापित हाे सकता है।
  • फतहसागर किनारे सुविधा अनुसार हाइड्रेंट स्थापित हाेंेगे।
  • जहां-जहां निगम के ट्यूबवेल हैं, वहां हाइड्रेंट लगाकर फायर टीम काे चाबी साैंपेंगे।
  • गुलाबबाग में भी हाइड्रेंट व्यवस्थित करेंगे।
खबरें और भी हैं...