राजे बोलीं- कन्हैया हत्या का वीडियो खौफनाक, नहीं देख पाई:कहा- गहलोत सुरक्षा नहीं दे पा रहे, सरकार में रहने का हक नहीं

उदयपुर3 महीने पहले
मृतक कन्हैया की पत्नी और बेटे से बात करती वसुंधरा राजे।

उदयपुर में कन्हैयालाल साहू की हत्या के छठे दिन पूर्व सीएम वसुंधरा राजे भी उनके घर पहुंची। उन्होंने कन्हैया की तस्वीर के आगे श्रद्धांजलि अर्पित कर पत्नी और दोनों बेटों से 50 मिनट तक मुलाकात की। राजे ने कहा- यह घटनाक्रम राज्य सरकार का बड़ा फेल्योर है। करौली हिंसा के बाद भी कडे़ एक्शन लिए जाते तो यह आज घटना नहीं होती। इस घटना तार के कही और भी जुड़े है। आरोपियों को जल्द से जल्द फांसी दी जानी चाहिए। हत्या का वीडियो खौफनाक था। उसे पूरा भी नहीं देख पाई।

राजे ने कहा कि इस तरह का अपराध उन्होंने पहले कभी नहीं देखा। 4 सालों में स्थिति बिगड़ते हुए आज ज्यादा खराब हो गई है। राजे ने कहा जिस गंभीरता से कन्हैया को पकड़ा गया। उसी तरह कन्हैया की को रिपोर्ट भी पुलिस गंभीर ले लेती तो आज यह सब नहीं होता।

पूर्व सीएम राजे ने कन्हैया की पत्नी से काफी देर तक बात कर ढांढ़स बंधाया।
पूर्व सीएम राजे ने कन्हैया की पत्नी से काफी देर तक बात कर ढांढ़स बंधाया।

उन्होंने कहा कि वायरल वीडियो काफी विभत्स था। वो उसे पूरा भी नहीं देख पाई। यदि गहलोत प्रदेश के लोगों को सुरक्षा नहीं दे पा रहे तो उन्हें सरकार में रहने का कोई हक नहीं है। सीएम गहलोत दूसरे पर कंधों पर जिम्मेदारी नहीं डाल सकते। वो कभी पीएम का तो कभी गृहमंत्री का नाम ले लेते हैं। उनके पास तो समय नहीं है। 5-6 महीनों से देख रहे है कि वो विधायकों को सुरक्षित देखने, होटल में कैद रखने और चुनाव में बिजी है। यदि यूपी में योगी कर सकते है कि तो हर राज्य के सीएम को भी करना चाहिए।

अपराधी का कोई जाति नहीं होती। उनका कोई मजहब नहीं होता। उनको सीरियस रूप से ट्रीट करना चाइए।कन्हैया परिवार को न्याय मिलना चाहिये। आरोपियों को जल्दी से जल्दी फांसी दी जानी चाहिये। हमे पूरा विश्वास है कि बिना आलस किए लीगल तरीके से जल्दी न्याय होगा। बता दें कि पूर्व सीएम वसुंधरा राजे डबोक एयरपोर्ट से करीब 8:45 बजे मृतक कन्हैयालाल के सेक्टर 14 स्थित घर पहुंची। उनके साथ पूर्व प्रदेशाध्यक्ष अशोक परनामी, पूर्व मंत्री श्रीचंद कृपलानी भी मौजूद थे। राजे ने इस दौरान गली में थोड़ा पैदल चलकर लोगों से मुलाकात की। महिलाओं भी राजे के साथ फोटो लेने को लेकर उत्त्साह था।

राजे ने गली में कई महिलाओं से बात भी की।
राजे ने गली में कई महिलाओं से बात भी की।