ऑडिट रिपोर्ट अपलोड करने में दिक्कतें:पोर्टल में तकनीकी दिक्कतें, संभाग के 4 लाख आयकरदाताओं में से 30% भी नहीं भर पाए रिटर्न

उदयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

इनकम टैक्स विभाग ने करदाताओं की सुविधा के लिए पुराने ई-फाइलिंग पोर्टल को बदलकर नया पोर्टल लॉन्च किया था। लेकिन लाॅन्चिंग के बाद से ही इसमें तकनीकी दिक्कतें आना शुरू हो गई थी, जो 6 माह बाद भी ठीक नहीं हो पाई हैं। पोर्टल पर धीमी गति, ओटीपी नहीं मिलना, ई-वेरीफिकेशन, आधार-पैन लिंक जैसी कई दिक्कतें आ रही हैं। इससे संभाग के 4 लाख आयकर दाताओं में से 30 फीसदी भी अब तक रिटर्न फाइल नहीं कर पाए हैं।

जबकि अंतिम तिथि में अब सिर्फ 18 दिन ही शेष हैं। ऐसे में सीए, व्यापारी सहित नौकरीपेशा भी परेशान हैं। अगर 31 दिसंबर तक रिटर्न नहीं भरा तो 5 लाख से ऊपर कर योग्य वाले आयकर दाताओं को 10 हजार रुपए प्रति रिटर्न पेनल्टी चुकानी होगी।

31 तक रिटर्न नहीं भरा तो लगेगी 10 हजार रुपए तक पेनल्टी​​​​​​​

राजस्थान कर सलाहकार एसोसिएशन के संभागीय उपाध्यक्ष सीए वीएस नाहर ने बताया कि नए पोर्टल पर कई दस्तावेज अपलोड नहीं हो रहे हैं। रिटर्न की रसीद नहीं मिल रही है। कभी लॉगिन नहीं होता है तो कभी ओटीपी नहीं मिलता। पासवर्ड बदलने के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ती है। सीए दीपक ऐरन का कहना है कि नए पोर्टल में पार्टनरशिप फर्म की फाइल रिटर्न नहीं हो पा रही है। ट्रस्ट की रिटर्न भी पोर्टल स्वीकार नहीं कर रहा है। पोर्टल में इसके अलावा भी कई तकनीकी समस्याएं हैं।

खबरें और भी हैं...