जमीनी विवाद में बड़े भाई ने छोटे को मार डाला:लठ्‌ठ से मार मौत के घाट उतारा, तीसरे भाई की शादी का मौका मातम में बदला

उदयपुर3 महीने पहले
पुलिस ने रात 2 बजे किया आरोपी को गिरफ्तार। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने रात 2 बजे किया आरोपी को गिरफ्तार।

उदयपुर के झल्लारा में बड़े भाई ने लट्ठ मारकर छोटे भाई को मौत के घाट उतार दिया। मामला लंबे समय से चले आ रहे विवाद के बढ़ने के बाद हुआ। इसके बाद पुलिस ने पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंपा। मामले में पुलिस ने रविवार रात 2 बजे बड़े भाई को गिरफ्तार भी कर लिया। मामले में मृतक के पिता ने थाने में रिपोर्ट दी। घर में शादी भी होने वाली थी। मगर मामले के बाद माहौल मातम में बदल गया।

बड़े ने छोटे माई को लठ्ठ मारा

मामले को लेकर थानाधिकारी परमेश्वर पाटीदार ने बताया कि केसरा पिता वेला मीणा ने रिपोर्ट दी कि उसके पांच बेटे हैं। इनमें मानिया और सबसे छोटा बेटा शंकर शामिल है। चौथे नम्बर के बेटे की शादी होने से सभी परिवार पुराने घर पर आए हुए थे। मगर रविवार को सबसे छोटे बेटे शंकर और एक अन्य बेटे मानिया के बीच आपस मे झगड़ा हो गया।

इस पर मानिया ने शंकर के सिर पर लट्ठ दे मारा। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुँची और शव को कब्जे में लेकर सलूम्बर स्थित मोर्चरी में भिजवाया।

पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कर शव परिवार को सौंप दिया है।
पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कर शव परिवार को सौंप दिया है।

जमीन विवाद बना मौत का कारण

थाना अधिकारी परमेश्वर पाटीदार ने बताया कि दोनों भाइयों मानिया और शंकर के बीच जमीन विवाद चल रहा था। उनके खेत में वेले से पानी पिलाने की बात को लेकर पहले भी झगडा हुआ था। लम्बे समय से चल रहे विवाद ने झगड़े का बड़ा रूप ले लिया। जिससे बड़े भाई ने छोटे भाई को मौत के घाट उतार दिया।

शादी की खुशियां मातम में बदली

पुलिस ने बताया कि मृतक के पिता के पांच बेटे हैं। उसमें एक कि मौत हो गई। जबकि दो शादीशुदा हैं और दो कुंवारे हैं। ऐसे में चौथे पुत्र की 9 मई को शादी होनी थी। ऐसे में भाई ने भाई को मौत के घाट उतारने के बाद यहां खुशियां मातम में बदल गई है। हालांकि रिवाज के अनुसार शादी सोमवार को होगी।

इनपुट : नारायण मेघवाल।