100 क्विंटल जब्त:बिचौलियों का धान खपाने पहुंचा

उदयपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

दो बार में 300 क्विंटल धान बेचने के बाद तीसरी बार बिचौलिए से संपर्क कर 100 क्विंटल धान समिति में लाकर खपाने का किसान ने प्रयास किया। इसकी भनक लगते ही राजस्व अफसरों ने पकड़ कर पर्दाफाश कर दिया। उदयपुर ब्लॉक की केदमा और खमरिया समितियों में कार्रवाई करने के बाद तीसरी कार्रवाई उदयपुर समिति में की गई।

ग्राम पंचायत लक्ष्मणगढ़ निवासी घासीराम पुत्र गाड़ाराम ने पहली बार में 150 और दूसरी बार भी 150 क्विंटल धान बेचा। अपने खाते का कोटा पूरा होने के बाद वह बिचौलियों के झांसे में आ गया। इसके बाद 100 क्विंटल का टोकन कटवाने बाद गुरुवार को एक ट्रैक्टर और एक पिकअप में धान की बोरी लादकर समिति में 10 बजे लाया।

इस दौरान अधिक मजदूर लगाकर आनन-फानन में वाहन से नीचे धान उतारा और वाहनों को मौके से वापस कर दिया। दोपहर बाद समिति में तहसीलदार सुभाष शुक्ला, नायब तहसीलदार शिवनारायण राठिया, फूड इंस्पेक्टर सतपाल कंवर, हल्का पटवारी नीता सिंह और जगरमति ने समिति में दबिश देकर जांच-पड़ताल करने के बाद किसान घासीराम से पूछताछ की।

स पर किसान ने बताया कि यह धान उदयपुर निवासी मनोज अग्रवाल ने बाजार से धान खरीद कर उसके खाते में बेचने का झांसा दिया है। इस पर अफसरों ने 245 बोरी में भरे 100 क्विंटल धान को जब्त कर समिति के सुपुर्द कर दिया है।

खबरें और भी हैं...